अज्ञात अपराधियों ने ग्रामीण चिकित्सक व सामाजिक कार्यकर्ता की गला रेतकर की हत्या

118
0
SHARE

छपरा – अज्ञात अपराधियों ने एक ग्रामीण चिकित्सक व सामाजिक कार्यकर्ता की गला रेत कर हत्या कर दी. घटना मुफस्सिल थाना क्षेत्र के साढ़ा ढाला की है. पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. साथ ही मामले की जांच में जुट गई है मुफस्सिल थानाध्यक्ष सह पुलिस निरीक्षक शशिभूषण चौधरी ने बताया कि मृतक की पहचान अमनौर निवासी अनिल कुमार सिंह 42 वर्ष के रूप में की गई है. हत्या धारदार हथियार से गला रेत कर की गई है उन्होंने ये भी बताया कि डॉ अनिल कुमार साढा ढाला के पास किराये के मकान में रहते थे वह फोड़ा, फूंसी, घाव का इलाज करते थे.

वहीं मृतक के पुत्र ने बताया कि गला रेतकर हत्या करने के बाद अपराधियों ने शव को बाथरूम में रख दिया था ताकि साक्ष्य नहीं मिल सके मकान मालिक ने सबसे पहले अनिल कुमार सिंह को बाथरूम में मृत अवस्था में देखा तो परिजनों को घटना की सूचना दी परिजनों को अनिल कुमार सिंह की हत्या के पीछे शराब माफिया के हाथ होने की आशंका है मृतक के पुत्र ने बताया कि अनिल कुमार सिंह हमेशा सामाजिक मूद्दों को लेकर आंदोलन करते रहे हैं.

मृतक के पुत्र के बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गयी है पुलिस मामले की जांच में जुट गई है हत्या के कारणों के बारे में परिजनों का कहना है कि डॉक्टर ने अमनौर में एक शराब माफिया के खिलाफ पुलिस से शिकायत की थी. मृतक की शिकायत पर पुलिस ने शराब माफिया को गिरफ्तार कर जेल भेजा था आंदोलन के कारण कई बार उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी गयी थी. इसकी शिकायत अनिल कुमार सिंह ने पहले ही पुलिस से की थी जान माल की सुरक्षा की गुहार भी लगाई थी. इस घटना के कारण अनिल कुमार सिंह के परिजनों में मातम छा गया है. अमनौर स्थित उनके पैतृक गांव में शोक की लहर दौड़ गयी है.