अनुसंधान के क्रम में एएसआई पर जानलेवा हमला, प्राथमिकी दर्ज 09 नामजद 15 अज्ञात दो गिरफ्तार

187
0
SHARE

केसरिया/पूर्वी चम्पारण केसरिया थाना के महज 100 मीटर की दूरी पर स्थित नगर पंचायत के चैनपुर वार्ड नं0 – 05 में शनिवार की संध्या 6:00 बजे स्थानीय थाना में कार्यरत एएसआई विनोद सिंह पर गांव के ग्रामीणों ने जानलेवा हमला कर दिया। जिसमें एएसआई सिंह बुरी तरह घायल हो गए। गौरतलब है कि यह मामला उस समय हुआ जब थानाध्यक्ष संजीव कुमार के निर्देश पर एएसआई सिंह अनिता देवी द्वारा अपने पड़ोसी प्रभु राय के विरुद्ध दिये गए जमीनी विवाद के आवेदन का अनुसंधान करने अकेले गए थे। जिसपर विपक्षियों ने गुस्सा से आग बबूला हो कर सिंह पर घर में घुस कर बदसलूकी करने का आरोप लगाते हुए जमकर धुनाई कर बुरी तरह से जख्मी कर दिया और बंधक बना लिया।

मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने बंधक बने जख्मी एएसआई को उनके प्राथमिक उपचार के लिए स्थानीय सदर अस्पताल लाया गया। बता दें कि इस मामले में स्थानीय थाना में एएसआई सिंह के आवेदन पर कांड सं0-374/18 दर्ज करते हुए, नौ लोगों को नामजद आरोपी किया है वहीं 15 अज्ञात भी शामिल है। ज्ञात हो कि इस मामले में स्थानीय पुलिस एएसआई पर जानलेवा हमले के बाद एक्शन मे आई व तत्परता दिखाते हुए दो आरोपियों को धर दबोचा। जिसमें दोनों बाप-बेटा का नाम शामिल है: क्रमशः पिता प्रभु राय व पुत्र अशोक कुमार है।

वहीं इस कांड में नामजद लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिसिया कवायद जारी है। पुलिस सूत्रों के अनुसार एएसआई सिंह ने अपने आवेदन में जांच के क्रम में नाजायज मजमा बनाकर हरवे हथियार से लैस होकर पुलिस को पकड़ कर गाली-गलौज करते हुए जान से मारने के नियत से धारदार हथियार से वार किया तथा गले में गमछा लगा कर फांसी लगाने व सरकारी कागज फाड़ देने एंव सरकारी कार्य में बाधा डालने के साथ मारपीट के दरम्यान पॉकेट से पांच हजार रुपया व गले से सोना का सिकडी छीन लेने का संगीन आरोप लगाया है। इस कांड में सोनू पटेल, मनोज पटेल, ललन पटेल, छेदी पटेल, सरस्वती देवी, कलावती देवी, सहित नौ नामजद के साथ 15 अज्ञात पूरुष व महिला शामिल है।