अन्तर्राष्ट्रीय चार पहिया वाहन लुटेरा गिरोह का हुआ खुलासा

166
0
SHARE

पटना- पुलिस कप्तान को दूरभाष पर अचानक सूचना मिला कि फोरलेन पर कुछ अज्ञात अपराधकर्मी एक चार पहिया वाहन लूट कर भाग रहे हैं। कप्तान द्वारा तत्रक्षण कार्रवाई करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक बाढ़ थानाध्यक्ष बख्तियारपुर को सूचना की सत्यापन करने एवं उस इलाके की नाकेबंदी कर प्रभावकारी कारवाई करने हेतु निर्देश दिया गया। इस सन्दर्भ में बख्तियारपुर थाना काण्ड संख्या 135/18 दिनांक 17.03.18 धारा 395/412 दर्ज किया गया।

सूचना के आलोक में अपर पुलिस अधीक्षक बाढ़ थानाध्यक्ष बख्तियार एवं आसपास के थानाध्यक्षों द्वारा इलाके की नाकेबंदी करते हुए लागातार छापेमारी की जाने लगी। इसी क्रम में फोरलेन पर CNC कम्पनी के आगे एक बोलेरो तेज गति से जा रहा था। पुलिस बल को उक्त बोलेरो पर संदेह हुआ तो उसे पीछा की जाने लगी। पुलिस को आते देख उक्त वाहन और तेजी से चलने लगा। पुलिस बल द्वारा पीछा करते हुए बोलेरो को ब्रांच रोड़ टेकाबिगहा से पकड़ा गया। बोलेरो में बैठ 03 कर्मियों को जब तलाषी ली गई तो उनके पास से 03 देशी पिस्टल, 15 चक्र जिन्दा कारतूस, 02 क्रि0ग्रा0 गाॅजा, मोबाईल एवं नशे की इनजेक्शन बरामद किया गया।

गिरफ्तार अपराधि्यों द्वारा पूछताछ में बताया कि ये लोग अविनाष कुमार नामक व्यक्ति जो बख्तियारपुर से लौट रहे थे उसका बोलेरो लूटे हैं । आगे इनके द्वारा यह भी खुलासा किया कि चोरी/लूट की गई वाहनों को इनके द्वारा कम दामों में वाहनों को बेचा जाता था। इनके द्वारा यह भी खुलासा किया गया कि इनका गिरोह राजधानी के अतिरिक्त अन्य जिलों में भी सक्रिय है तथा हमलोग के गिरोह में 10-20 कर्मी शामिल हैं । इनके द्वारा राजधानी एवं अन्य शहरों से वाहनों को चोरी करने के उपरांत अन्र्तराज्जीय/राज्य के दलालों से सम्पर्क कर नम्बर प्लेट बदलकर दलालों से सम्पर्क स्थापित कर नेपाल/दिल्ली/मुम्बई, आसाम एवं नागालैण्ड जैसे शहरों में सप्लाई किया जाता था। वाहन नही बिकने के उपरांत वाहन को उक्त गैराज में अगल-अगल काटकर उसका पाटर्स को स्थानीय एवं बाहरी बाजारों में सस्ते दर में बेच दिया जाता है।

इनके द्वारा यह भी खुलासा किया गया कि रात्रि के सुनसान होने पर बाढ़/बख्तियारपुर/फतुहा हाईवे के आसपास रहते थे और वहाॅ से वाहन को गुजरने के उपरांत आम्र्स एमुनेशन का भय दिखाकर लूटतें हैं और यह भी हिदायत देते हैं कि अगर हल्ला किया तो जान से मार देगें । इनके द्वारा नषे की इनजेक्शन भी इस्तेमाल किया जाता है । जब वाहन को लूट लेते हैं तो वाहन में बैठ कर्मियों एवं चालक को नषे की इनजेक्शन देकर सुनसान जगह पर छोड कर फरार हो जाते हैं । गिरफ्तार अपराधियों के विरूद्व बख्तियारपुर थाना काण्ड संख्या 136/18 दिनांक 17.03.18 धारा 399/402 भा0द0वि0, 25(1-बी)/26/35 आम्र्स एक्ट एवं 20/22 एन0डी0पी0एस0 एक्ट दर्ज किया गया है ।

गिरफ्तार अपराधियों का नाम एवं पताः-

रणधीर कुमार उफ हडिया पिता अरविन्द राम सा0 सीता मंदीर, मस्जीद के पीछे थाना खाजेकला जिला पटना।
गोलू कुमार पिता परमानन्द साह सा0 माधोपुर थाना बख्तियारपुर जिला पटना।
नीरज कुमार पिता प्रदीप शर्मा सा0 पियूरी थाना मानपुर जिला नालंदा।

बरामदगीः-

देशी पिस्टल 03
जिन्दा गोली 15
गाॅजा 02 क्रि0ग्रा0
लूटा का बेलोरो 01
मोबाईल 02
नशे का इनजेक्शन आदि