अपराधियों पर काल की तरह बरस रही मुजफ्फरपुर पुलिस

455
0
SHARE

श्रीधर पाण्डेय

मुजफ्फरपुर- पुलिस के कप्तान विवेक कुमार अपने विवेक से जिले में अपराध, नक्सलवाद, शराब पर अंकुश लगाने के लिए पूरी तरह चौकस है एवं लगातार कार्रवाई कर अपराध एवं अपराधियों पर नकेल कसी जा रही है। दिनांक 20/02/12 को शाम साढ़े सात बजे मनियारी थाना क्षेत्र के काजीइंडा चौक के पास वाहन चेकिंग के क्रम में एक मोटरसाइकिल सवार व्यक्ति को पकड़ा गया जिसके पास से अवैध अग्नेयास्त्र, दो जिंदा गोली एवं चोरी के मोटरसाइकिल बरामद हुआ। पकड़ाए व्यक्ति से पूछताछ करने पर अपना नाम मंजय कुमार बताया जो कि कुख्यात डकैत है एवं इसका अपराधिक इतिहास विभिन्न जिलों में रहा हैं।

छापेमारी दल में शामिल पु०अ०नि० मिहिर कुमार (थानाध्यक्ष) मनियारी, सि० वरुण कुमार, राजेश कु० चौरसिया, चौ०मो० जैत शामिल थे। टीम में शामिल सभी लोगो को कुख्यात डकैत की गिरफ्तारी के लिए सम्मानित किया गया। दिनांक 20-21 फरवरी की रात करीब 1 बजे मीनापुर थानाअंतर्गत मुस्तफागंज बाजार में स्वर्ण व्यवसाई संजय शाह को अपराधकर्मियों द्वारा घर में प्रवेश कर गोली मारकर गंभीर रुप से जख्मी कर दिया गया। घटना की सूचना वरीय पुलिस अधीक्षक विवेक कुमार को प्राप्त होते ही तुरंत पुलिस निरीक्षक सोना प्रसाद, थानाध्यक्ष मीनापुर के नेतृत्व में थाना में पदस्थापित पदाधिकारियों को शामिल करते हुए छापेमारी दल का गठन करते हुए अपराधकर्मियों के भागने की दिशा में छापेमारी करने का निर्देश दिया गया।

छापेमारी दल द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए कार से भागते हुए 2 अपराधकर्मियों दिलीप कुमार एवं उमेश कुमार को आग्नेयास्त्र एवं गोली के साथ गिरफ्तार किया गया। अपराधकर्मियों की पहचान वादिनी द्वारा करते हुए दिलीप कुमार चौधरी द्वारा उनके पति को गोली मारने की बात बताई गई। गिरफ्तार अपराध कर्मियों के स्वीकारोक्ति बयान पर गंज बाजार से छापेमारी करते हुए राजीव कुमार को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अपराधकर्मी पूर्व में भी कई कांडों में जेल जा चुके हैं तथा मुजफ्फरपुर ,वैशाली सहित आसपास के कई जिलों में इन लोग द्वारा अपराध किया गया है।

गिरफ्तार अपराधियों के पास से एक पिस्टल, एक देसी कट्टा, चार गोली, एक कार, तीन मोबाइल बरामद किया गया। दिलीप कुमार चौधरी 2003 में चोरी कांड में जेल भेजा गया था जो रिमांड होम से दो दफा फरार हो चुका है। छापेमारी दल में शामिल सोना प्रसाद सिंह पुलिस निरीक्षक सह थानाध्यक्ष, मीनापुर, पुलिस अवर निरीक्षक उदय कुमार सिंह, पुलिस अवर निरीक्षक अंजनी कुमार, सिपाही जितेंद्र कुमार, भूषण चौधरी, कुमार गौरव एवं सैप सशस्त्र बल शामिल थे।

मीनापुर थाना अध्यक्ष सोना प्रसाद द्वारा घटना होने के 3 घंटे के अंदर की गई त्वरित तथा सराहनीय कार्यवाही के लिए उन्हें प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया तथा पुलिस उपमहानिरीक्षक तिरहुत क्षेत्र महोदय को इन्हें नगद पुरस्कार देने हेतु अनुशंसा की गई टीम के अन्य सदस्यों को भी सम्मानित किया जा रहा है।