अपराधियों से मुठभेड़ के दौरान दो जवान हुए शहीद

170
0
SHARE

मुकेश कुमार सिंह

सहरसा – बिहार के छपरा जिले के मढ़ोरा SIT टीम पर कल अपराधियों के द्वारा अंधाधुंध गोलीबारी की घटना की गई थी जिसमें इंस्पेक्टर सहीत एक सिपाही मोहम्मद फारूक आलम शहीद हो गये थे। मोहम्मद फारूक आलम सहरसा जिले के बैजनाथपुर गम्हरिया का रहने वाला था। घर पर मौत की खबर सुनते ही घर में कोहराम मच गया है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

बता दें कि मोहम्मद फारूक आलम की शादी के मात्र 11 महीने पूरे हुए हैं और वे मौत से पहले अंतिम बार बकरीद में घर गए थे। वहीं इस घटना को लेकर शहीद सिपाही के पिताजी नें कहा कि साढ़े 9 बजे रात में पता चला, किसी दूसरे के मोबाईल पर सूचना आया कि आपका बेटा शहीद हो गया। उन्होंने ये भी कहा कि मेरा बेटा तो शहीद हो गया लेकिन वो लड़ने वाला जवान था।

वहीं शहीद के बहनोई ने कहा कि परोस के यहां फोन आया था कि आपका फारूक आलम छपरा में जो ड्यूटी करता था और SIT में कार्यरत था वो अपराधियों से मुठभेड़ के दौरान शहिद हो गया। थाना से भी सूचना मिली, थाना वाले भी आये थे। साथ ही साथ एसपी साहब भी साढ़े 12 बजे रात में आये थे और सांत्वना देकर चले गये और बोले अंतिम विदाई में आएंगे।