अपोलो अस्पताल में 75 दिन के संघर्ष के बाद जयललिता का निधन

405
0
SHARE
(FILES) This file photo taken on March 27, 2014 shows All India Anna Dravida Munnetra Kazhagam (AIADMK) Leader and Chief Minister of the southern Indian state of Tamil Nadu J. Jayalalithaa gesturing as she arrives at a public meeting in Pondicherry. Jayalalithaa Jayaram, the chief minister of south India's Tamil Nadu state and one of the country's most popular political leaders, died after a prolonged illness, hospital authorities announced late December 5, 2016 night. / AFP PHOTO / Manjunath Kiran

लगभग 75 दिन से अस्पताल में भर्ती तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे.जयललिता का सोमवार देर रात निधन हो गया। अपोलो अस्पताल ने इसकी पुष्टि की है।

तमिलनाडु सरकार के मंत्री और अन्नाद्रमुक के वरिष्ठ नेता ओ. पन्नीरसेल्वम ने जे. जयललिता की मृत्यु के बाद सोमवार देर रात राज्य के मुख्यमंत्री के पद की शपथ ले ली। राज्यपाल विद्यासागर राव ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

अस्पताल की तरफ से दिए गए बयान में कहा गया, इस घोषणा के लिए हमारे पास शब्द नहीं हैं। यह बताते हुए बड़ा दुख हो रहा है कि ‘अम्मा’ जयललिता अब इस दुनिया में नहीं रहीं। उन्होंने रात 11.30 बजे अंतिम सांस ली।’उन्हें 22 सितंबर को बुखार और पानी की कमी के कारण भर्ती कराया गया था। उनकी पार्टी एआईएडीएमके ने भी निधन की पुष्टि की है।

कयासों का दौर
करीब 26 घंटे तक उनकी सेहत को लेकर कयासों का दौर चला। सोमवार शाम कुछ तमिल चैनलों ने उनके निधन की खबर चला दी थी। इसके बाद उनके समर्थकों में अफरातफरी मच गई थी। उनके समर्थक बेकाबू भी हो गए थे जिस वजह से पुलिस को लाठीचार्ज भी करना पड़ा। राज्यभर में जिस तरह के सुरक्षा इंतजाम किए गए थे उससे माना जा रहा था कि जयललिता की हालत बेहद गंभीर है।