अविश्वास प्रस्ताव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी का भाषण अविस्मरणीय रहा – सदानंद सिंह

103
0
SHARE

पटना – बिहार कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह ने कहा कि मोदी सरकार के विरुद्ध विपक्ष द्वारा लाये गये अविश्वास प्रस्ताव का मकसद पूरा हुआ| ये सभी जानते हैं कि एनडीए सरकार को पूर्ण बहुमत है| इसलिये सरकार गिरने की कोई संभावना नहीं थी| लेकिन पिछले 50 महीनों के कार्यकाल में भी मोदी सरकार जनता की उम्मीदों पर खड़ी नहीं उतरी| लोगों से किये वादों को पूरा नहीं कर सकी| देश की अर्थव्यवस्था बद से बदतर स्थिति में पहुँच गई| भाजपा सरकार की नाकामियों और असफलताओं को जनता के समक्ष उजागर करने के लिए ही अविश्वास प्रस्ताव लाया था| जिसे पूरा करने में विपक्ष सफल रहा|

सिंह ने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी का भाषण अविस्मरणीय रहा| अपने भाषण के अंत में राहुल जी ने जिस तरह प्रधानमंत्री के सीट पर जाकर मोदी जी को गले लगाया; वह पल अद्भूत था| उन्होंने कांग्रेस के प्रेम की राजनीति से भाजपा के नफ़रत की राजनीति को बौना कर दिया| उन्होंने भाजपा को हिन्दू, हिन्दुत्व और हिन्दुस्तान का मतलब समझाया| संविधान की आत्मा धर्मनिरपेक्षता का अर्थ समझाया|

उन्होंने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव के दरम्यान विपक्ष के नेताओं के द्वारा उठाये गये ज्वलंत विषयों पर भाजपा के लोग माकूल जवाब नहीं दे सके| जिससे यह स्पष्ट हो जाता है कि वे लोग काम नहीं किये हैं| फलतः मोदी सरकार के खिलाफ जनता का अविश्वास संसद में दिख गया|