आग की चपेट में आने से एक अधेड़ महिला की मौत

214
0
SHARE

मुकेश कुमार सिंह

सहरसा – बिहार के सहरसा जिले के बिहरा थाना क्षेत्र के तुनियाही गांव में अलाव की आग की चपेट में आने से एक अधेड़ महिला की हुई मौत, तो वहीं पत्नी को बचाने के दौरान पति भी मामूली रूप से झुलसा। आनन-फानन में परिजनों ने महिला व उनके पति को इलाज के लिए सदर अस्पताल में कराया भर्ती। जहां पत्नी की इलाज के दौरान हुई मौत।

घटना के सम्बंध में बताया जाता है कि देर रात तुनियाही गांव निवासी सत्तो शर्मा की पत्नी वीणा देवी अपने घर के पास अलाव ताप रही थी। इसी दौरान महिला का कपड़ा आग की चपेट में आग गया और देखते-देखते शरीर मे आग पकड़ लिया। जबतक आग बुझाया जाता तबतक महिला गम्भीर रूप से झुलस गई। जिसे बचाने के दोैरान पति का भी दोनों हाथ बुरी तरह झुलस गया। जिसके बाद परिजनों ने उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत गंभीर देख चिकित्सक ने बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच पटना रेफर कर दिया। लेकिन परिजनों ने उसे स्थानीय नीजी नर्सीग होम ले जा रहा था। जहां रास्ते में ही उक्त महिला की मौत हो गई।

घटना की सूचना मिलने पर पूर्व जिला पार्षद सह लोजद नेता प्रवीण आनंद ने अस्पताल पहुंचकर मृत महिला के परिजनों को ढ़ांढ़स बंधाया और उन्होंने कहा कि अगर यहां सरकार द्वारा इलाज की भरपूर व्यवस्था रहती तो उक्त महिला की जान बच जाता। उन्होंने इसके लिए राज्य सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को इसका जिम्मेवार बताया। उन्होंने ये भी कहा कि कोशी का पीएमसीएच कहलानेवाला सदर अस्पताल में एक भी बर्न वार्ड नही है,अभी फिलहाल सदर अस्पताल में कई बर्न मरीज भर्ती है।