आदरणीय शरद जी अब समाजवादी नहीं रहे, परिवारवादी हो गए हैं : निखिल मंडल

252
0
SHARE

पटना – जेडीयू प्रवक्ता निखिल मंडल ने प्रेस बयान जारी करते हुए कहा है कि शरद यादव अब समाजवादी नहीं रहे बल्कि जिस राजनीतिक नीतियों का ताउम्र विरोध करते रहे है अब उसी रास्ते पर चल पड़े हैं। अब शरद जी को कांग्रेस की राजनीति इस कदर भाने लगी है कि लोहिया, जेपी, बीपीमंडल की आत्मा भी कराहती होगी। सिद्धांतों की बात करने वाले शरद जी बेहिचक कभी सोनिया- राहुल के राजदरबार तो कभी लालू जी के जेलदरबार में पहुँच रहे हैं यह देखकर बड़ा दुःख होता है।

उन्होंने कहा कि अब शरद यादव के समर्थकों को उनके समाजवादी नहीं होने का गीत गाना चाहिए क्योंकि अब वे कांग्रेसपरस्त हो गए हैं। कभी विचारधारा की बात करने वाले शरद जिस बेचैनी में सोनिया- राहुल, लालूजी- तेजस्वी के आगे अपने टिकट के लिए और अपने बेटे- दामाद को राजनीति में स्थापित करने के लिए अपने से कम उम्र और कम अनुभवी नेताओं के पीछे- पीछे घूम रहे हैं, नतमस्तक हो रहे है वह उन्हें शोभा नहीं देता है।

प्रवक्ता ने कहा आदरणीय शरद यादव जी! आपसे गुजारिश करता हूँ कि उम्र के इस ढलान पर आप इस कदर न झुके। कभी आपके विचार का मैं भी कायल था लेकिन मुझे अब खुद से सवाल पूछना पड़ता है कि क्या ये वही शरद जी है जो समाजवाद के पुरोधा है जो लोहिया, जेपी, बीपीमंडल की विरासत निभाने का दावा करते थे। आप बड़े हैं तो ज्यादा नहीं कहूँगा पर आपके स्वस्थ एवं दिर्घायु जीवन की कामना करते हुए इतना जरूर कहूँगा कि कभी आप टिकट बांटा करते थे आज अपने टिकट के लिए बार-बार जेल का चक्कर लगा रहे हैं। तेजस्वी से फरियाद कर रहे है ये वाकई आपको शोभा नहीं देता और इस तरह के जेल दरबारी कर टिकट प्राप्त कर मधेपुरा की समाजवादी धरती से चुनाव जीतने का ख्वाब देख रहे हैं तो ये मुंगेरी लाल के हसीन सपने से कम नहीं है।