आशिक के साथ मिलकर पिता की हत्या, हत्यारा आशिक और बेटी गिरफ्तार

246
0
SHARE

धनंजय झा

कोई सोच भी नहीं सकता कि एक बेटी अपने जन्मदाता की हत्या करवा सकती है। लेकिन बेगूसराय में एक मामला प्रकाश में आया है जिसमें अवैध संबंध की वजह से सगी बेटी ने ही अपने वृद्ध पिता की हत्या अपने आशिक के साथ मिलकर कर दी। मामले का खुलासा होने के बाद पुलिस खुद सकते में है और अब हत्यारी बेटी और उसका आशिक दोनों पुलिस की गिरफ्त में है।

क्या है पूरा मामला

दरअसल पिछले 18 जुलाई को साहेबपुर कमाल थाना क्षेत्र के पंचबीर के नजदीक तरबन्ना में एक वृद्ध की लाश मिली थी। लाश मिलने के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी और उस वक्त शव की शिनाख्त भी ना हो पाई थी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम भी कराया और लाश को सुरक्षित रखा गया। लेकिन तकरीबन 5 दिन बीत जाने के बाद जब लाश की शिनाख्त मानसी निवासी राजपति पासवान के रूप में हुई तो हत्या के तार अपने आप खुलते चले गए।

खगड़िया जिले के मानसी निवासी राजपति पासवान ने अपनी बेटी मधु कुमारी की शादी साहेबपुर कमाल थाना क्षेत्र के पंचबीर में करवाई थी। मधु कुमारी का पति बाहर रहकर मजदूरी का काम करता है। धीरे-धीरे मधु कुमारी का संबंध पंचवीर के रहने वाले अपने पड़ोसी बुच्चन पासवान से हो गया और विगत कुछ दिन पूर्व मधु कुमारी के पति लाजपति पासवान ने अपनी पत्नी को बुच्चन के साथ आपत्तिजनक अवस्था में देख लिया था। इसी की शिकायत उसने अपने ससुर राजपति पासवान से की थी। शिकायत मिलने के बाद राजपति पासवान अपनी बेटी को समझाने के लिए पंचवीर आए हुए थे जो मधु कुमारी को नागवार गुजरा।

पिता के समझाने के बाद आरोपी बेटी मधु कुमारी ने अपने प्रेमी बूच्चन पासवान के साथ मिलकर पिता के हत्या की साजिश रची और एक रात फंदा डालकर अपने पिता की हत्या कर दी। इतना ही नहीं हत्या के बाद राजपति पासवान के शव को भूसे के ढेर में छोड़ दिया और बाद में चेहरे पर तेजाब डाल कर साक्ष्य छुपाने की भी कोशिश की और फिर मौका मिलते ही राजपति पासवान के शव को तरबन्ना के नजदीक फेंक दिया। फिलहाल पुलिस ने मधु के आशिक बूचन पासवान तथा उसके एक साथी सुशील को पासवान को गिरफ्तार कर लिया है तथा अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

वहीं आरोपी बेटी मधु कुमारी अपने आप को इस हत्या में निर्दोष बता रही है तथा प्रेम संबंध के बात को भी झूठी बता रही है।