आसरा गृह मामला : मनीषा दयाल कोर्ट में हुई पेश

174
0
SHARE

पटना – राजधानी के राजीवनगर स्थित ‘आसरा गृह’ मामले में कोषाध्यक्ष मनीषा दयाल कोर्ट में पेश की गई। दरअसल इस मामले में आसरा गृह चलाने वाले एनजीओ के सचिव चिरंतन कुमार और कोषाध्यक्ष मनीषा दयाल को गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं अन्य एनजीओ कर्मी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

गौरतलब है कि पटना के राजीवनगर के नेपालीनगर स्थित ‘आसरा गृह’ की दो संवासिनों की संदेहास्पद स्थिति में बीते शुक्रवार को मौत हो गई। उन्हें एनजीओ के मालिकों द्वारा पीएमसीएच ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पुलिस के मुताबिक दोनों का पोस्टमार्टम और अंतिम संस्कार शनिवार को बिना पुलिस को सूचित किये आनन-फानन में करा दिया गया था। घटना की जानकारी मिलते ही एसएसपी मनु महाराज और डीएम कुमार रवि ने इसपर जांच शुरू कर दी और साथ ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट की रिव्यु के लिए चिकित्सकों की एक बोर्ड गठित की।

हालांकि दूसरी मृत लड़की की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में किसी भी बाहरी या आंतरिक चोट या यौन शोषण के बारे में नहीं लिखा है। लेकिन रिपोर्ट के निष्कर्ष को आरक्षित कर दिया गया है और महिला के चिकित्सा इतिहास की मांग की है क्योंकि वह मानसिक और शारीरिक रूप से पीड़ित थी।

बता दें कि एनजीओ मालिक के अनुसार दोनों महिलाओं की मौत डायरिया की वजह से हुई। उनके मुताबिक इस गृह में अप्रैल-मार्च के महीने में 73 महिलाएं जिनकी दिमागी हालत ठीक नहीं थी वे लोग लायी गयी थीं।