इंकलाबी नौजवान सभा ने कैमूर में अपनी मांगो को लेकर दिया धरना

509
0
SHARE

कैमूर: बिहार के कैमूर जिले में इंकलाबी नौजवान सभा की जिला इकाई ने बुधवार को राज्य इकाई के आह्वान पर अपने मांगों को ले समाहरणालय के समक्ष धरना दिया। धरना की अध्यक्षता सभा के संयोजक मुन्ना राम ने किया। धरनार्थियों को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि युवाओं के साथ दिल्ली व पटना की सरकारों के द्वारा विश्वास घात जारी है।

उन्होंने कहा कि सलाना दो करोड़ रोजगार के वादा के साथ सत्ता में आई मोदी सरकार ने पिछले दो सालों में दो करोड़ बेरोजगारों की संख्या और बढ़ा दी है। इस समय देश में रोजगार विहीन विकास का माडल चल रहा है। साथ ही औद्योगिक विकास के दशक में सबसे निचले स्तर में पहुंच गया है, जो रोजगार मिल रहे है। वह ठेका पर आधारित है। उसमें न तो सम्मान है और न ही किसी प्रकार के सुरक्षा की गारंटी है।

वक्ताओं ने न्यूतम मजदूरी का एक तिहाई करने, कम से कम 500 सौ रुपये बेरोजगारी भत्ता देने, तमाम बेरोजगारों को स्वयं सहायता भत्ता, समान शिक्षा प्रणाली को लागू करने, बेरोजगार नौजवानों को बिना गारंटर के रोजगार के लिए दस लाख रुपये ऋण देने, कैमूर जिले में खुल रहे उद्योग में स्थानीय बेरोजगारों को प्राथमिकता देने, प्रत्येक प्रखंड मुख्यालय में सरकारी कॉलेज खोलने व समान काम समान वेतन की मांग की।