इस एनएच पर यात्रियों को है हनुमान चालीसा का सहारा

592
0
SHARE

बगहा: बिहार में खरबा सड़कों की चर्चा हमेशा होती रही है। यहां के नेशनल हाइवे 28B की हालत इतना खास्ता है कि लोग यहां हनुमान चलीसा पढ़ कर चलते है। पता नहीं कब यहां हादसा हो जाए। तमाम शिकायतों के बावजूद पिछले 13 सालों से इस सड़क की कोई सुध लेने वाला नहीं है।

बगहा से बेतिया तक इस हाइवे की दूरी करीब 65 किमी है। इस सड़क पर सड़क हादसे में आये दिन लोगों की मौत हो रही है। सोते हुए सरकारी तंत्र को जगाने के लिए बगहा के लोगों ने विरोध का अनोखा तरीका अपनाया है। बगहा विकास मंच ने रविवार को सुरक्षित गंतव्य स्थान पर पहुंचाने के लिए बस चालकों को सम्मानित किया और साथ ही यात्रियों के बीच हनुमान चालीसा भी बांटे।

बगहा विकास मंच के सदस्य कुमार कुन्दन का कहना है कि सड़क इतनी खराब है कि सुरक्षित पहुंचने के लिए भगवान की एकमात्र सहारा हैं। यात्रा के दौरान लोग हनुमान चालीसा पढ़कर सुरक्षित गंतव्य पर पहुंच रहे हैं।

उन्होंने बताया कि चालकों को सम्मान के साथ बस यात्रियों को हनुमान चालीसा भी बांटे जा रहे है ताकि बजरंगबली की कृपा से वे सकुशल घर लौट सकें।

वर्ष 2003 में बगहा-बेतिया सड़क को एनएच का दर्जा मिला मगर 13 साल बाद भी सड़क नहीं बन सकी। सड़क की हालत जर्जर है और आये दिन हादसे होते रहते है।
बगहा विकास मंच का दावा है कि पिछले साल इस एनएच पर 12 के करीब लोगों की सड़क हादसे में मौत हो चुकी है जिसके पीछे की वजह खराब सड़कें रहीं है।