उपचुनावों के नतीजों से बिहार की राजनीति के भविष्य का भी एक विश्वसनीय संकेत मिलने वाला है – शिवानंद तिवारी

104
0
SHARE

पटना – राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने उपचुनाव को लेकर कहा कि बिहार के उपचुनाव नीतीश कुमार के लिए इम्तिहान हैं. महागठबँधन से अलग होने की वजह जो वे बता रहे हैं उस पर बिहार की जनता मुहर लगा रही है या उसको ख़ारिज कर रही है. यह उपचुनावों का नतीजा बताएगा.

उन्होंने कहा महागठबँधन से अलग होकर जिस अनैतिक ढंग से वे अपने पुराने गठबँधन में शामिल हुए हैं उसकी हवा निकलती दिखाई दे रही है. चार दिन पहले पाँच सीटों वाले तीन राज्यों में जीत के उपलक्ष्य में ढोल-नगाड़ा बजा कर देश भर में शोर मचाया गया था. उसकी गूँज अभी समाप्त भी नहीं हुई है कि चंद्रबाबू नायडू गठबंधन से अलग हो रहे हैं. मुद्दा विशेष राज्य का दर्जा है.

बिहार के विशेष राज्य दर्जे पर उन्होंने कहा कि नीतीश जी के लिए भी एक समय बिहार के विशेष राज्य का मुद्दा बहुत अहम था. इतना कि विरोध में रहते हुए उन्होंने मनमोहन सिंह से कहा था कि अगर उनकी सरकार बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दे देती है तो वे उनकी सरकार का समर्थन को तैयार हैं. लेकिन आज वह मुद्दा उनकी याद से उतर चुका है. बिहार के उपचुनावों के नतीजों से बिहार की राजनीति के भविष्य का भी एक विश्वसनीय संकेत मिलने वाला है. इसका सबको इंतज़ार है.