उपमुख्यमंत्री के विवादित बयान पर कांग्रेस विधायक आनंद शंकर सिंह ने कहा, यह पूरी तरह से स्पष्ट हो चूका है कि बिहार में अपराधियों का बोलबाला है और सरकार उनके सामने घुटने टेक चुकी है

141
0
SHARE

औरंगाबाद – कांग्रेस विधायक आनंद शंकर सिंह ने उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के विवादित बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि गया के पितृपक्ष मेले के उद्घाटन समारोह में बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने जिस प्रकार से अपराधियों को आग्रह किया है खुले मंच से उनका यह बयान निंदनीय है। इसकी जितनी भी निंदा की जाए वह कम होगी। जिस प्रकार से बिहार में विगत कुछ वर्षो में अपराधिक घटनाओं में वृद्धि हुई है और हत्या, लूट बलात्कार का ग्राफ बढ़ा है उससे यह साबित होता है कि बिहार सरकार पूरी तरह अपराधियों के गिरफ्त में आकर लाचार और बेबस हो चुकी है है। क्योंकि जब बिहार के मुखिया ही अपराधियों से हाथ जोड़कर विनती करते नजर आते हैं कि पितृपक्ष में तो आपराधिक घटनाओं से दूर रहे उससे यह पूरी तरह से स्पष्ट हो चूका है कि बिहार में अपराधियों का बोलबाला है और सरकार उनके सामने घुटने टेक चुकी है।

उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर में पूर्व मेयर समीर कुमार की एके -47 द्वारा हत्या कर दी गई वह बिहार के क़ानून व्यवस्था की नाकामी को दर्शाता है। राज्य में अपराधियों का मनोबल कितना बढ़ा हुआ है। बिहार की जनता दहशत में पड़कर अपने सलामती के प्रति आशंकित है। बिहार के माहौल को लेकर संवैधानिक पद पर बैठे हुए किसी भी जिम्मेवार व्यक्ति से इस तरह ओछे बयानों की अपेक्षा बिहार की जनता नहीं करती है। अगर इसी प्रकार से अपराधियों के आगे उनको नतमस्तक हो जाना है तो अपने पद की गरिमा का ख्याल रखते हुए सुशील मोदी को उपमुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। यही न्याय होगा बिहार की जनता के लिएम