एक ठो भोजपुरी चुटकलवा … ।

679
0
SHARE
एक बेर जंगल क राजा शेर 
बहुत गहिर गड़हा में गिर 
गईल। परेशान होके शेरवा 
एहर वोहर देखे लागल, 
लेकिन कवनो रास्ता ना लउकल। 
तबे उन्हवा पेड़ पर कहीं ले 
बानर आ गईल। शेरवा के 
एह हालत में देख के बनरा 
ओकर मजाक उड़ावे 
लागल, "का रे शेरवा, बड़का 
राजा बनेले, अब त तोर 
अकल ठिकाना आ गईल 
होई, अब शिकारी तोरा के 
मरिहन स, तोर खाल निकाल 
के देवाल पर सजईहन 
स.. तोर नोह आ दांत निकाल 
के दवाई बनईहन स।" 
तबे जवना डाल पर बनरा 
बईठल रहे, टूट गईल 
आ बनरा सीधे शेरवा क 
समनवे गिर गईल। 
आ गिरते बनरा कहता- "माई 
कसम दादा, खाली माफ़ी 
माँगे खातिर कुदनी ह।"