एसटीएफ और अपराधियों के बीच घंटों चली मुठभेड़ में भारी मात्रा एसटीएफ ने बरामद किया हथियार

319
0
SHARE

लखीसराय- जिले के जैतपुर दियारा में एसटीएफ और अपराधियों के बीच घंटों मुठभेड़ हुई है. इस मुठभेड़ में कई अपराधियों को गोलियां लगी हैं. पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार बरामद किया है. एसटीएफ के साथ लखीसराय जिला की पुलिस भी ऑपरेशन में शामिल थी. मुठभेड़ के बाद एक अपराधी को गिरफ्तार भी किया गया है.

आईजी ऑपरेशन के निर्देश पर कार्रवाई

बताया जा रहा है कि आईजी ऑपरेशन कुंदन कृष्णन खुद इस ऑपरेशन की मॉनिटरिंग कर रहे थे. आईजी अभियान कुन्दन कृष्णन को जैतपुर दियारा में अपराधियों के जमावड़े की सूचना मिली थी. सूचना कंफर्म होने के बाद एसपी अरविंद ठाकुर को इस ऑपरेशन की जानकारी दी गई, जिसके बाद एसपी ने ASP अभियान पवन उपाध्याय के नेतृत्व में टीम को जैतपुर दियारा भेजा. ऑपरेशन को पूरी तरह से गुप्त रखा गया था.

AK 47 की मैगजीन सहित हथियार बरामद

पुलिस के मुताबिक पहले से यह कंफर्म सूचना थी कि भारी मात्रा में हथियारों के जखीरे के साथ बड़हिया थाना क्षेत्र के जैतपुर दियारा में अपराधी छिपे हुए हैं. सूचना पर ASP अभियान पवन उपाध्याय के नेतृत्व में जैतपुर दियारा में छापेमारी शुरू की गई. पुलिस को देखते ही अपराधियों ने फायरिंग शुरु कर दी. जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब दिया. इस फायरिंग में कई अपराधियों के घायल होने की सूचना है. पुलिस ने एक कार्बाइन, एक रायफल, AK 47 की दो लोडेड मैगजीन, देशी कट्टा सहित अन्य हथियार बरामद किया है.

ASP अभियान के नेतृत्व में चल रहा सर्च ऑपरेशन

मुठभेड़ के बाद ASP अभियान पवन उपाध्याय के नेतृत्व में बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है. पुलिस को उम्मीद है कि घायल अपराधी दियारा इलाके में ही छिपे हुए हैं. मुठभेड़ के दौरान अभियान दल और एसटीएफ की टीम शामिल थी.

यूपी के मुख्तार अंसारी गैंग के थे लोग

पुलिस के मुताबिक बड़हिया के दियारा क्षेत्र में दुर्दांत अपराधियों के विरुद्ध अभियान के दौरान हुए मुठभेड़ में घायल अपराधी यूपी के कुख्यात गैंग मुख्तार अंसारी गैंग के सदस्य बताए जा रहे है. किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए ये सभी अपराधी जैतपुर दियारा में इकठ्ठा हुए थे. पुलिस दियारा के कई इलाकों में नाकेबंदी कर सर्च ऑपरेशन चला रही है.