कलयूगी बेटों ने तांत्रिक के कहने पर ममता को किया तार-तार

428
0
SHARE

सीतामढ़ी / संवाददाता-

कहते हैं मां की ममता और उसके आंचल की छाया दुनिया की हर विपत्ति को दूर कर सुकून की ज़िन्दगी देता है। लेकिन ज़िन्दगी देने वाली मां की ममता पर ही सवाल खड़े किये जाए… वो भी अपने कोख में पले बेटे द्वारा तो क्या कहेंगे इसे आप ? जी हां, यह एक कलयूगी बेटे द्वारा अपनी ही मां के कोख को शर्मशार किया है।

सीतामढ़ी में बोखड़ा प्रखंड के सिंघाचौरी गांव में दो बेटों ने अपनी मां को ही डायन बता कर उसे मैला का घोल पिलाया और सर के बाल को मुंडवाया है। इस घटना की सूचना के बाद इलाके में लोग अचंभित और आक्रोशित हैं। आक्रोश ऐसा है कि लोग इस कलयूगी बेटे को ऑन द स्पॉट मौत देने को व्याकुल दिख रहे थे। दरअसल यह मामला सिंघाचौरी पंचायत के वार्ड नं.-12 का है। बताया जाता है कि सुनैना देवी को लकवा मार गया है। इलाज के बहाने उसके दोनों बेटे उसे पहलेजा लेकर आये, जहां एक तांत्रिक के यहां जाकर पहले तो उसके बाल मुंडवाये फिर वृद्ध महिला को मैला को घोल पिला दिया। जब महिला अपने घर आयी तो अपने साथ हुई आपबीती अपने बेटियों को बतायी। इस मामले पर गांव में पंचायती बुलायी गयी। पंचायती के दौरान पूरी घटना को सुनकर लोग आग-बबूला हो गये और दोनों आरोपी बेटों को पिटाई करने के बाद गांव के ही पंचायत भवन में बंधक बना लिया।

इधर मौके पर पहुंची पुलिस जब आरोपी को अपने साथ ले जाने लगी तब स्थानीय लोग आक्रोशित हो गये। पुलिस वालों के हिरासत से आरोपी को लोगों ने छुड़ाने का प्रयास किया। इस दौरान न सिर्फ पुलिस वालों के साथ लोगों ने बदसलूकी की बल्कि पुलिस के वाहन का हवा खोल दिया। हालात बेकाबू होते देख पुलिस के जवानों को आरोपी को लेकर पंचायत भवन में छुपना पड़ा।