किसानों को संरक्षित खेती करने के लिये प्रशिक्षण देगी बाॅरलोग संस्थान -डाॅ॰ प्रेम कुमार

116
0
SHARE

पटना- कृषि मंत्री डाॅ॰ प्रेम कुमार ने कहा कि राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतर्गत बाॅरलोग इन्स्टीच्यूट फाॅर साउथ एशिया (बीसा) फार्म, पूसा, समस्तीपुर में प्रशिक्षण केन्द्र की स्थापना के लिए कुल 234 लाख रूपये की निकासी एवं व्यय की स्वीकृति प्रदान की गई है।

मंत्री ने कहा कि बाॅरलोग इन्स्टीच्यूट फाॅर साउथ एशिया (बीसा) में प्रशिक्षण केन्द्र की स्थापना कर बिहार में किसानों के प्रशिक्षण के लिए सुविधा का विकास किया जायेगा। बिहार के किसानों को संरक्षित खेती पर आधारित फसल संघनीकरण के तकनीकों का प्रशिक्षण दिया जायेगा। लगभग 3,000 किसान प्रति वर्ष संरक्षित खेती पर आधारित स्थायी फसल संघनीकरण की तकनीकों को प्रशिक्षण पा सकेंगे। छोटे किसानों को मशीनीकरण के लिए कस्टम सेवा सुविधा का विकास किया जायेगा। किसानों को बदलते मौसम के अनुकूल खेती करने के लिए संरक्षित खेती में प्रशिक्षित किया जायेगा।

डाॅ॰ कुमार ने कहा कि बाॅरलोग इन्स्टीच्यूट फाॅर साउथ एशिया (बीसा) द्वारा वत्र्तमान में क्लाईमेट स्मार्ट गाँव पर कार्य किया जा रहा है। इसके अंतर्गत क्लाईमेट स्मार्ट कृषि क्रियाओं विशेषकर संसाधन संरक्षित कृषि क्रियाओं यथा जीरो टिलेज, धान की सीधी बुआई, फसल अवशेष प्रबंधन, सेंसर आधारित पोषक तत्त्व प्रबंधन, जल प्रबंधन, बीज और चारा बैंक आदि पर स्थानीय विशिष्टता पर शोध किये जा रहे हैं।