किसी को कानून के तहत एक ही आवास आवंटन हो सकता है, लेकिन नीतीश कुमार को दो आवास आवंटन है : नेता प्रतिपक्ष

304
0
SHARE

पटना – बिहार में सरकारी बंगले को लेकर पक्ष और विपक्ष आमने-सामने है। कोर्ट के आदेश के बाद राज्य सरकार जहां नेता प्रतिपक्ष को बंगला खाली करने का आदेश जिलाधिकारी को दिया है। वहीं राजद नेता और कार्यकर्ता इसका विरोध कर रहे हैं। तो वहीं तेजस्वी यादव ने दिल्ली से पटना एयरपोर्ट पर आते ही बिहार के मुखिया नीतीश कुमार पर जमकर हमला किया।

उन्होंने कहा कि बंगले का मामला अभी डबल बेंच में है। इसलिए यह गैर-क़ानूनी है। वहीं उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि उनका नाम नीतीश कुमार है। वह कुछ भी कर सकते हैं। जब घर में सीसीटीवी लगा सकते हैं। वह बराबर पलटी मारते हैं और धोखा दे सकते है। लगातार अपराधियों को संरक्षण दे रहे है। तो वह है नीतीश कुमार कुछ भी कर सकते हैं।

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार से सवाल पूछते हुए कहा कि किसी को कानून के तहत एक ही आवास आवंटन हो सकता है। लेकिन नीतीश कुमार को दो आवास आवंटन है। एक मुख्यमंत्री और दूसरा पूर्व मुख्यमंत्री के नाते रखे हुए है। उन्होंने कहा अब इसको दिल्ली में आवास मिल गया है। तो इसको कुछ करना है।

वहीं उन्होंने कहा कि बिहार क्या हिंदुस्तान में यह पहला मामला है। नेता प्रतिपक्ष को जिसे मंत्री का दर्जा मिलता है। उनका बंगला खाली करनें की कोशिश की जा रही है। तेजस्वी यादव जब सरकार में भवन निर्माण मंत्री थे, उस समय सुशील मोदी के पास मंत्री का बंगला था। हम भी चाहते तो खाली करा सकते थे। लेकिन ऐसा काम नहीं किया। सुशील मोदी जब नेता प्रतिपक्ष रहे हो या मंत्री या फिर उपमुख्यमंत्री रहते हुए उसी बंगले में है। लेकिन पता नहीं क्यों एक छोटा बच्चे है। बच्चे से इतनी नफरत क्यों है? उन्होंने कहा हम नेता प्रतिपक्ष उन्ही की बदौलत बने है। अब उसका पालन कर रहे हैं।