कुमार रवि की अध्यक्षता में अतिक्रमण हटाओ अभियान की समीक्षा की गई

145
0
SHARE

पटना – शहर में प्रभावशाली ढंग से अतिक्रमण हटाने हेतु दिनांक 16 अगस्त से 05 सितम्बर तक चलाये जा रहे अतिक्रमण हटाओ अभियान के 12वें दिन बीते शुक्रवार 30 अगस्त को नूतन राजधानी अंचल, बांकीपुर अंचल, कंकड़बाग अंचल एवं पटना सिटी अंचल के विभिन्न क्षेत्रों में जोर-शोर से अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया गया।

अतिक्रमण हटाने के लिए विशेष अभियान के तहत आज निम्नलिखित क्षेत्रों में अतिक्रमण हटाया गयाः-

(i) नूतन राजधानी अंचल- राजवंशी नगर वार्ड नं0-14, 17 एवं 19

(ii) बांकीपुर अंचल-हथुआ मार्केट से मछुआ टोली तक।

(iii) पटना सिटी अंचल-गाय घाट गाँधी सेतु के नीचे।

(iv) कंकडबाग अंचल- मीठापुर बस स्टैण्ड।

बैठक में जिलाधिकारी ने नूतन राजधानी अंचल, कंकड़बाग अंचल, बांकीपुर अंचल एवं पटना सिटी अंचल के कार्यपालक पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि 05 सितम्बर, 2018 तक सघन रूप से अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जाय। अभियान शिथिल न होने पाये।

जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि अतिक्रमण हटाओ अभियान का Follow of Team रात्रि में सघन रूप से पुनः अतिक्रमित स्थल को अतिक्रमण से मुक्त करायें। जिलाधिकारी ने Follow of Team के दंडाधिकारी प्रभात रंजन कार्यपालक पदाधिकारी खगौल से, पटना नगर निगम को कार्य में शिथिलता बरतने के आरोप में स्पष्टीकरण की मांग की। अतिक्रमण हटाने के क्रम में चलाये जा रहे विशेष अभियान के तहत चार अंचलों में कुल 2,90,000 रुपये जुर्माने की राशि वसूल की गई। अतिक्रमणकारियों द्वारा स्वयं ही अतिक्रमण हटाये जाने के कारण अतिक्रमण हटाने के विशेष अभियान के क्रम में चार अंचलों में FIR दर्ज नहीं किया गया।

जिलाधिकारी ने महाप्रबंधक पेसू को निर्देश दिया कि पटना शहर के मुख्य सड़कों पर अतिक्रमण हटाने के बाद सड़क के बीचों बीच आ गये बिजली के पोल को शिफ्ट करने का निर्देश दिया तथा Under Ground वायरिंग करने का निर्देश दिया ताकि कहीं भी बिजली की तार लटकता हुआ न रहे। जिलाधिकारी ने वन प्रमंडल पदाधिकारी को निर्देश दिया कि फ्रेजर रोड, छज्जूबाग, सोना मेडिकल हाॅल के सामने एवं बोरिंग रोड चैराहा पर यातायात में बाधा पहुंचा रहे पड़ों को हटावा दें। नगर निगम के चारों अंचल के पदाधिकारियों एवं दंडाधिकारियों को निर्देश दिया कि अतिक्रमण हटाने के दौरान बाधा पहुचाने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाय तथा यह भी ध्यान में रखा जाय कि आम लोगों को परेशानी न हो।

जिलाधिकारी ने महाप्रबंधक भारत संचार निगम लि0 को निर्देश दिया कि पटना शहर के प्रमुख सड़कों पर दोनों ओर Defunct टेलीफोन के पोल (जो उपयोग में नहीं है) को हटा दें। इससे यातायात वाधित हो रहा है। उन्होंने कहा कि अगर भारत संचार निगम लि0 द्वारा Defunct पोल को नहीं हटाया जायेगा तो उसे अतिक्रमण समझ कर हटा दिया जायेगा। बैठक में जिलाधिकारी को परियोजना निदेशक बुडको ने बताया कि शहर के 57 जगहों पर सी0सी0टी0वी0 एवं ट्रैफिक पोस्ट है। 22 जगहों पर और ट्रैफिक पोस्ट के साथ सी0सी0टी0वी0 लगाया जा रहा है। जिलाधिकारी ने परियोजना निदेशक बुडको को निर्देश दिया कि ट्रैफिक पोस्ट एवं सी0सी0टी0वी0 को सही ढंग से संधारित करें, ताकि यातायात संचालन सुगम हो सके।

उन्होंने अपर नगर आयुक्त, पटना नगर निगम को निर्देश दिया कि बोरिंग कैनाल रोड, जे0डी0 वेमेंस काॅलज, कदमकुआं सहित चिन्ह्ति14 जगहों पर शीघ्र वेंडिंग जोन का निर्माण करायें। बैठक में जिलाधिकारी कुमार के साथ नगर पुलिस अधीक्षक डी0 अमरकेश, पुलिस अधीक्षक यातायात पी0एन0 मिश्रा, अपर नगर आयुक्त शीला ईरानी, अपर जिला दंडाधिकारी सामान्य आशुतोष कुमार वर्मा, अपर जिला दंडाधिकारी विधि-व्यवस्था कृष्ण कन्हैया प्रसाद सिंह, महाप्रबंधक पेसू, महाप्रबंधक बी0एस0एन0एल0, परियोजना निदेशक बुडको, प्रभारी पदाधिकारी जिला नियंत्रण कक्ष, शैलेन्द्र भारती, पटना नगर निगम के सभी अंचल के कार्यपालक पदाधिकारी, सभी दंडाधिकारी एवं संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थें।