केंद्रीय विद्यालय जमालपुर में भौगोलिक शिक्षा में सुधार को लेकर ट्रेनिंग शुरू

1630
0
SHARE

जमालपुर(प्रिंस दिलखुश): देश के विभिन्न राज्यों में स्थापित केंद्रीय विद्यालय के शिक्षकों में भौगोलिक शिक्षा में गुणवत्ता पूर्ण सुधार लाने के लिए केंद्र विद्यालय जमालपुर की ओर से दस दिवसीय द्वितीय चरण का राज्य स्तरीय पीजीपी प्रशिक्षण का शुभारंभ शनिवार को किया गया।वहीं प्रशिक्षण में स्नातकोत्तर शिक्षक भूगोल के कुल 28 शिक्षक शामिल हुए प्रशिक्षण के पूर्व विद्यालय परिसर में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता केंद्र विद्यालय जमालपुर के प्राचार्य एन.एल पासवान व संचालन शिक्षक के.एन जॉर्ज ने किया।

उद्घाटन मुख्य अतिथि भारतीय रेल यांत्रिक एवं विद्युत अभियंत्रण संस्थान (इरिमी) जमालपुर के प्रोफ़ेसर उत्कर्ष ने किया। वही सहायक कोर्स निर्देशक एम.एच अंसारी, रिसोर्स पर्सन एस.के सिन्हा व प्रशांत कुमार ने संयुक्त रूप से दीप प्रचलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

इसके बाद संगीत शिक्षिका ज्योति कुमारी रंजिनी गुप्ता के सामूहिक नेतृत्व में विधि, कुसुम,लक्ष्मी, वर्षा,शक्ति स्वरूपा ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। हम हैं छोटे जीव जगत के नामक योग गीत पर अतिथियों ने योगाभ्यास भी किया।

मुख्य अतिथि श्री उत्कृष्ट ने कहा कि देश को दशा और दिशा का निर्धारण शिक्षकों के हाथों में है। के.वी जमालपुर के प्राचार्य अनिल पासवान ने कहा कि इस प्रशिक्षण में बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, गुवाहाटी, महाराष्ट्र, जोधपुर, केरल, तमिलनाडु, भोपाल, जबलपुर सहित अन्य स्थानों से आए सेवाकालीन स्नातकोत्तर शिक्षकों(भूगोल) का यहां प्रशिक्षण दिया जा रहा है। एशिया प्रसिद्ध रेल इंजन कारखाना की स्थापना व वर्तमान कार्य संस्कृति से अवगत हुए तथा कारखाना की भौगोलिक स्थिति की जानकारी ली।

मौके पर सेवाकालीन में स्नातकोतर शिक्षकों में संजय सतवाल,डॉ.नर्वदा शर्मा,नेहा सिंह,पैन सिंह,  गौतम,निवास गौतम,एन.अंबिका पाठी,राकेश रंजन,विमल कांत शर्मा,गीता जोशी,ज्योति पांडे, मनोज अग्रवाल,बी.एन राम,पी.एस राठौर,एस.के चौहान,रतन राणा,आर.के मीणा, आर.पी मीना, संजीव कुमार, राम सिंह, कपिल देव, अमिताभ सत्यम, शमशेर सिंह, एस उपाध्याय, संजीव कुमार, सुधीर कुमार, एम के शुक्ला सहित अन्य शिक्षकगण मौजूद थे।