केंद्र सरकार के खिलाफ दिल्ली में किसानो का प्रदर्शन उचित – रजनीश

384
0
SHARE

पटना – जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक युवा परिषद् के प्रदेश सचिव सह प्रवक्ता रजनीश तिवारी ने प्रेस बयान जारी कर कहा है कि केंद्र सरकार किसानों के साथ छलावा करती आई है किसानों पर किये सारे वादे अभी तक झूठे साबित हुआ है जिससे देश के किसानों में काफी आक्रोश देखने को मिल रहा है। जिसका नतीजा है कि भारत की राजधानी दिल्ली में किसानों का हुजूम उमड़ा और किसान केंद्र सरकार के खिलाफ आक्रोशित है किसानों के साथ भारतीय जनता पार्टी की सरकार भेदभाव कर रही है। देश के किसान कर्ज में डूबे हुए हैं उन्हें उनकी लागत मूल्य तक नहीं मिल पा रहा , डीजल के बढ़ते दामों से त्रस्त है और केंद्र सरकार का ढकोसला वायदा जो किसानों के 2 गुना लागत मूल्य का वह भी एक जुमला निकला।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की नीयत किसानों के लाभ पहुंचाने की नहीं उनकी नियत अडानी अंबानी बड़े बड़े बिजनेसमैन जैसे लोगों को लाभ पहुंचाने की है कैसे उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाया जा सके ?आज देश के किसान आत्महत्या कर रहे हैं हर जगह हर रोज देश भर में अपने मांग के लिए आंदोलन कर रहे हैं।किसान के बाल बच्चे आज अच्छे स्कूल में नहीं पढ़ रहे हैं, ना ही अपने बाल-बच्चे की पढ़ाई का खर्च उठा पा रहे हैं औऱ ना ही अच्छे हॉस्पिटल में अपने इलाज करवा पा रहें है।

तिवारी ने कहा कि कर्ज में डूबे किसानों की जो आज हालत है वह बहुत ही चिंतनीय है सरकार को अब किसानों की चिंता बिल्कुल भी नहीं जो अन्नदाता किसान ईश्वर तुल्य है आज उनकी स्थिति दयनीय हुई है आज से पहले ऐसी स्थिति किसान की भारत में कभी नहीं थी भारत कृषि प्रधान देश है और आज किसान ही जब आत्महत्या कर रहे हैं तो भविष्य में अनाज भी अन्य देशों से खरीदना पड़ेगा अगर स्थिति नहीं सुधरी तो।

तिवारी ने कहा कि केंद्र सरकार को पूर्ण कर्ज माफी और फसलों की लागत का डेढ़ गुना मुआवजा दे किसानों का सम्मान करना चाहिए नहीं तो किसानों का यह अपमान उन्हें चुनाव में हार का मुंह दिखाने का काम करेगी।