कोशी प्रोजेक्ट का सरकारी आवास बना अपराधियों का शरणास्थली

500
0
SHARE

मुकेश कुमार सिंह

सहरसा – सदर थाना क्षेत्र में खाली व जर्जर पड़े सरकारी क्वार्टर अपराध व अपराधियों के लिए वरदान साबित हो चुका है। बीते रविवार को शहर के शिवपुरी स्थित स्कूल संचालिका से रंगदारी मांगने व गोलीबारी करने के मामले में सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी के नेतृत्व में सदर थाना पुलिस ने कोसी प्रजेक्ट के क्वाटरों में छापेमारी की।

छापेमारी के दौरान यह बात खुलकर सामने आयी कि सरकारी क्वार्टरों में बाहरी व असमाजिक तत्वों ने उसे अपना शरणस्थली बना लिया है। जिसके बाद एसडीपीओ तिवारी ने कोसी प्रोजेक्ट के अधिकारियों से बात कर उन्हें क्वार्टर की सूची देने व बाहरी व असमाजिक तत्वों पर कार्रवाई करने की बात कही।

एसडीपीओ ने कहा कि जानकारी मिली है कि कुछ लोग सरकारी क्वार्टरों में गलत ढ़ंग से कब्जा जमाये बैठे हैं। उक्त कार्रवाई होता देख स्थानीय लोगों का कहना है कि इस तरह की अगर प्रशासन द्वारा लगातार कार्रवाई हो तो यह क्षेत्र में अपराधियों की गतिविधी पर तब ही अंकुश लग पायेगा।

बता दें कि कोसी कॉलोनी में कुल 146 आवास विभाग द्वारा निर्मित है। जिसमें मात्र पचास से साठ में कर्मी रहते हैं बाकी बचे सभी क्वार्टर अवैध रूप से कब्जा जमाये असमाजिक तत्वों का एक छत्र सम्राज्य चल रही है। उक्त मामले के संबंध में कार्यपालक अभियंता गुंजन कुमार ने बताया कि अवैध मुक्त कराने के लिए विभाग द्वारा सदर अनुमंडल पदाधिकारी को लिखा गया है। वहीं वार्ड पार्षद विरेन्द्र पासवान ने प्रशासन से खाली कराने का मांग किया है।