18 साल बाद पटना में बिहार क्रिकेट टूर्नामेंट का हुआ उद्घाटन

995
0
SHARE

पटना: राजधानी पटना के एतिहासिक मोइनुल हक स्टेडियम में बीसीसीआई की निगरानी में चार दिवसीय अंडर-19 कूच विहार ट्रॉफी का मैच सोमवार को शुरु हुआ। 18 साल के सूखे के बाद आखिर वह घड़ी आ ही गयी जब पटना में बीसीसीआई का कोई मैच आयोजित हुआ है।

सीरीज का पहला मैच आज एएंडए और झारखंड की टीम के बीच पहला मैच खेला जा रहा है। मैच की शुरूआत हो गयी है, झारखंड ने टास जीता है और पहले बैटिंग करने का फैसला किया है। आज का मैच 45 ओवर का ही होगा।

1998 के बाद पटना में बीसीसीआई का कोई मैच नहीं हुआ जबकि कूच विहार ट्रॉफी का मैच 39 साल पहले हुआ था। इस मैच में एसोसिएट एंड एफिलिएट टीम मजबूत झारखंड की टीम से भिड़ेगी। एएंडए टीम में दो स्टैंडबाई सहित बिहार के कुल सात खिलाड़ी शामिल हैं।

टूर्नामेंट में अबतक सभी तीन मैचों में हार झेल चुकी एएंडए की टीम अपने घरेलू मैदान पर पहली जीत के लिए उतरी है। दूसरी ओर झारखंड की टीम चार में से तीन मैच जीतकर बुलंद इरादों के साथ खेल रही है।

पटना के मोइनुल हक स्टेडियम में सोमवार से बीसीसीआई दूारा आयोजित कूच बिहार ट्रॉफी अंडर-19 क्रिक्रेट प्रतियोगिता का उद्घाटन नहीं हो सका। घने कोहरे और कम रोशनी के कारण उद्घाटन नहीं हो सका। टूर्नामेंट के अंतर्गत मोइनुल हक स्टेडियम में ए एंड ए और झारखंड के बीच मुकाबला होना था।

चार दिनों तक चलने वाले इस मैच की तैयारी कल ही पूरी कर ली गई थी। सोमवार को नौ बजे से टूर्नामेंट का शुभारंभ होना था। मौके पर खेल मंत्री, बीसीसीआई के कई अधिकारी, ऑफिसियल, मैच रेफरी समेत तीनों अंपायर भी स्टेडियम पहुंचे लेकिन मैच शुरू नहीं हो सका।

अंपायर समेत मैच रेफरी ने पिच और मैदान का मुआयना किया लेकिन मौसम की मार का असर मैच पर भी पड़ता दिखा। खराब मौसम के कारण खेलने के लिए डे-लाईट पर्याप्त नहीं था जिसके कारण मैच शुरू ही नहीं हो सका।

क्रिक्रेट प्रेमियों का उत्साह मौसम की मार का शिकार बनता दिखाई दिया। मालूम हो कि 39 बरसों के लंबे अंतराल के बाद एक बार फिर से बीसीसीआई द्वारा बिहार में अंडर 19 क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है। इससे पहले 1997-98 में रणजी ट्रॉफी मैच खेले गए थे।