गरीबी से तंग आकर अधेड़ ने महुआ की पेड़ में फाँसी लगाकर दी जान

149
0
SHARE

बांका – चांदन थाना क्षेत्र अंतर्गत गोरिपुर पंचायत के आजाद नगर गांव में गरीबी से तंग होकर अधेड़ ने घर से तकरीबन 700 मीटर की दुरी पर जंगल में जाकर महुआ की पेड़ में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक के परिजनों ने बताया कि बीते बुधवार को 5:00 बजे घर से खाद्य सामग्री खरीदने के लिए निकला किन्तु देर रात तक घर वापस नहीं लौटा, अपने स्तर से काफी खोजबीन करने के बाद भी कुछ पता न चल सका। सुबह लोगों ने बताया कि एक आदमी दमगिया की जंगल में महुआ की पेड़ में फांसी लगा कर आत्महत्या कर लिया है। उक्त स्थान पर पहुंचकर देखा तो हम सभी के होश उड़ गए।

वहीँ पुलिस का कहना है कि पारिवारिक कलह के कारण आत्म हत्या किया। लेकिन ग्रामीणों ने बताया कि इनके उपर कर्ज काफी हो चुका था। हमलोग जंगल में रहते हैं, मुख्य पेशा इनका महुआ शराब बनाना था जिससे आमदनी होती थी। जबसे सरकार ने शराब बंद कर दिया तबसे आमदनी नहीं हो रही थी। किसी तरह कर्ज लेकर परिवार चलाते थे। हालांकि इस मामले में अधिकारी कुछ बोलने से इनकार कर रहे हैं।

घटना की सूचना मिलते ही एस0 आई रामकुमार सिंह, एस0 आई चंदन दुबे दल-बल के साथ घटना स्थल पर पहुंच कर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बांका भेज दिया है। मृतक अपने पीछे दो पुत्र श्याम कुमार, बिक्की कुमार एवं पत्नी राधा देवी को छोड़ गए।