गरीब, गरीब होता है फिर चाहे सवर्ण हो अथवा पिछड़े वर्ग या दलित समुदाय का हो, जरूरतमंद लोगों को आरक्षण का लाभ मिलना चाहिए – डॉ० सी०पी० ठाकुर

101
0
SHARE

पटना – भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व केन्द्रीय मंत्री व सांसद पद्मश्री डॉ० सी०पी० ठाकुर ने कहा कि 6 सितम्बर को आयोजित भारत बंद के दौरान जिन लोगों की बिहार समेत भारत के अन्य राज्यों में बेवजह गिरफ्तारी की गई है, उनलोगों को सरकार के स्तर पर स्वतः छोड़ देना चाहिए। इसमें छोटे-छोटे बच्चों को भी गिरफ्तार किया गया है, बच्चियों एवं महिलाओं को तंग किया गया है। यह सरासर अनुचित है। उन्होंने कहा कि वे सभी अपने हक़ के लिए लड़ रहे थे। वे कोई अपराधी तो थे नहीं। इसलिए सरकार उसे अविलंब छोड़ दे।

डॉ० ठाकुर ने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के बयान का समर्थन करते हुए कहा कि गरीब सवर्णों को भी आरक्षण मिलना चाहिए। आज बड़े संख्या में ऐसे सवर्ण हैं जो गरीब हैं, सरकार इन गरीब सवर्णों के लिए कुछ करे। उन्होंने कहा कि आरक्षण का मुद्दा बहुत महत्वपूर्ण है और कमजोर लोगों को आरक्षण मिलना चाहिए। इसपर सरकार अविलंब व्यापक रूप से विचार करे।

डॉ०ठाकुर ने कहा गरीब, गरीब होता है फिर चाहे सवर्ण हो अथवा पिछड़े वर्ग या दलित समुदाय का हो। जरूरतमंद लोगों को आरक्षण का लाभ मिलना चाहिए। देश की आज़ादी की लड़ाई और देश के विकास में सभी वर्गों का बराबर का योगदान रहा है। इसलिए किसी वर्ग को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। जो गरीब और पिछड़ी जाति के लोग हैं उन्हें आरक्षण देकर मुख्यधारा में लाना चाहिए। लेकिन जो अगड़ी जाति में आर्थिक रूप से पिछड़े हैं उन्हें भी सभी की तरह मुख्यधारा से जोड़ना चाहिए।