गाड़ी से उतरते हुए राजद कार्यालय में तेजप्रताप का हंगामा

598
0
SHARE

पटना – गणतंत्र दिवस के दिन भी राजद प्रदेश कार्यालय में ताला लगा देख तेजप्रताप यादव भड़क गए। तेजप्रताप जनता दरबार लगाने प्रदेश कार्यालय पहुंचे थे, लेकिन मुख्य दरवाजे पर ही ताला और वहां का नजारा देख तेजप्रताप गुस्से से लाल हो गए.

गेट पर ताला लगा देख तत्काल उन्होंने पार्टी नेताओं को फोन करना शुरू कर दिया। तेजप्रताप ने प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे को भी फोन लगाया लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी। इसके बाद आनन-फानन में एक नेता चाभी लेकर आए तब जाकर मुख्य गेट का ताला खुला। हालांकि तेजप्रताप कार्यालय के परिसर में इंट्री ले सके पर अंदर की चाभी नहीं थी। लिहाजा परिसर से घूमकर तेजप्रताप वापस लौट गए।

रामचंद्र पूर्वे उन्हें टारगेट कर रहे तेजप्रताप

गुस्से से लाल दिख रहे तेजप्रताप ने प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। तेजप्रताप ने प्रदेश अध्यक्ष से सवाल किया कि जब पूरे देश का कार्यालय खुला है तो फिर मेरी पार्टी का प्रदेश कार्यालय मे क्यों ताला लगा है ?

उन्होनें तल्ख अंदाज में कहा कि प्रदेश अध्यक्ष उनके खिलाफ साजिश कर रहे हैं। वे नहीं चाहते कि वहां वे जनता दरबार करें। जानबूझकर कार्यालय मे ताला बंद किया गया है।तेजप्रताप ने कहा कि रामचंद्र पूर्वे उनको टारगेट कर रहे हैं।लेकिन किसी की हिम्मत नही कि वह प्रदेश कार्यालय में जनता दरबार करने से रोक दे।

रामचंद्र पूर्वे की करेंगे शिकायत

तेजप्रताप यादव ने कहा कि वे प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे के खिलाफ तेजस्वी से शिकायत करेंगे। अगर प्रदेश अध्यक्ष अपनी आदत से बाज नहीं आए तो फिर मुश्किल हो जाएगा। उन्होने सवाल उठाया कि आज के दिन कार्यालय को बंद रखना जायज है क्या?