गैंगवार में युवक की गोली मारकर हत्या

634
0
SHARE

मुकेश कुमार सिंह

सहरसा – बिहार के सहरसा जिले में अपराधियों का तांडव बदस्तूर जारी है। यहाँ खुले आम अपराधी दिनदहाड़े हत्या कर हो जाते हैं फरार। वहीं पुलिस अपराधी को पकड़ने में हो रहे हैं विफल। जी हाँ ये ताजा मामला सदर थाना क्षेत्र के रामफल टोला का है जहां दिनदहाड़े गैंग वार में कुंदन सिंह हत्याकांड के अभियुक्त राधे ठाकुर नामक युवक को गोली मारकर की हत्या। युवक पर हत्या का मामला कई थाने में है दर्ज।

बता दें कि मृतक क्ई संगीन मामले का वांछित अपराधी था और पुलिस को क्ई महीनों से थी तलाश। वहीं मृतक के परिजन लगा रहे है पुलिस पर गंभीर आरोप। पुलिस ने ही इनकाउंटर कर गोलियों से किया छलनी और मौके पर ही उतारा मौत की घाट। दिग्भ्रमित करने के लिए गैंगवार का दे रहा है रूप। क्योंकि तीन दिन पूर्व खुद एसडीपीओ अपने लोलस्कर के साथ मेरे घर पर छापेमारी के दौरान दिया था धमकी। आज उसने इनकाउंटर कर दिया घटना को अंजाम।
वहीं परिजन शव को लेकर सदर अस्पताल में खुलेआम। पुलिस के कार्यशैली पर उठा रही उंगलियां।

बहरहाल इस घटना के बाद पुलिस के कोई वरीय अधिकारी मौके की नजाकत और उग्र परिजन के तेवर को देखकर अस्पताल नहीं पहुंच रही है। जांच के बाद ही सच्चाई सामने आएगी। वहीं एसडीपीओ ने परिजन के इस बयान को मीडिया के सामने सिरे से खारिज करते हुए राधे ठाकुर को क्ई संगीन मामले का बतलाया वांछित। लूट, हत्या जैसी कई संगीन मामले थे मृतक पर दर्ज। हत्या का होगा अनुसंधान जो दोषी होगा उसे पुलिस नहीं बख्शेगी।

दिनदहाड़े खुलेआम गोलियों से छलनी कर मौत के घाट उतार देना, चाहे जिसने भी घटना को अंजाम दिया हो किसी भी हालात में खाकी पुलिस की कार्यशैली पर उंगलियां उठना तो लाजमी है। चाहे अपराधी हो या आम इंसान सभी की सुरक्षा देना पुलिस की पहली प्राथमिकता है। जो कि इस घटना के बाद दूर-दूर तक पुलिस की चौकसी व संजीदगी दिखती नहीं।