चमत्कार या लापरवाही ?

163
0
SHARE

गया – श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार के लिए आया मृतक हुआ जीवित. चिता से पहुँचा अस्पताल. अंतिम संस्कार के लिए तैयारी हो गई थी पूरी तभी एक आश्चर्यजनक घटना हुई. परिजनों ने आनन-फानन में अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल में कराया भर्ती।

परिजनों ने बताया चमत्कार, स्थानीय लोगो ने भी कहा बस चीता पर सुलाना बाकी रह गया था तभी अचानक जीवित होने की खबर आग की तरह फैल गयी. स्थानीय लोग भी देखने पहुँच गए.

दरअसल गया के श्मशान घाट पर मृत व्यक्ति जीवित हो गया. कुजापी गाँव निवासी 80 वर्षीय रामकृत प्रसाद की मौत आज सुबह 5 बजे हो गयी थी, लंबे समय से बीमार चल रहा था. परिजनों ने अंतिम संस्कार के लिए 12 बजे श्मशान घाट लाया. अंतिम संस्कार के लिए सारी सामग्री और चिता भी बनकर तैयार हो गया था. मृत व्यक्ति से परिजन मिलने गए तभी परिजनों ने देखा कि नब्ज चल रहा है आनन फानन में परिजनों ने चिकित्सक को बुलाया जाँच की गई तो जीवित बताया गया. अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल में करीब 2 बजे मृत घोषित कर दिया गया.