चीन के छात्रों ने जाना भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता के बारे में

227
0
SHARE

गया- आज दिनांक 19 नवंबर 2017 को चीन के 100 छात्रों का दल मगध विश्वविद्यालय के दूरस्थ शिक्षा विभाग के सभागार में राष्ट्रीय सेवा योजना बौद्धिस्ट शिक्षण संस्थान एवं आई आई एम के 25-25 छात्रों के समूह से रूबरू होकर भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता के बारे में जानकारी ली। चाइनीज डेलीगेट्स के स्वागत में राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयं सेवको ने सर्वप्रथम उन्हें तिलक लगाकर आरती किया। उसके बाद सभी आगंतुक अतिथियों को पुष्प की माला पहनाकर आदर सत्कार किया गया। सभागार में अतिथियों के लिए विदुषी कुमारी, रिया पाठक, प्रीति, स्वाति ने स्वागत गान गाकर उनका अभिनंदन तथा स्वागत किया। सभागार के अंदर मौजूद मेघा, अंजलि ने अतिथियों का वंदन कर उनका स्वागत किया।

ऐसे सम्मान मिलते देखकर चाइनीज छात्रों ने कहा कि हम ज्ञान एवं मोक्ष की धरती पर आकर अपने आपको धन्य तथा गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो आदर सत्कार हमें भारत और मगध की धरती मगध विश्वविद्यालय में मिला वह कहीं भी देखने को नहीं मिला और हमें यहां आकर राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों से जितना अपनापन और प्यार मिला हम कभी भी भूल नहीं पाएं। इस मौके पर चाइनीज अतिथियों के स्वागत में मगध विश्वविद्यालय के डी एस डब्ल्यू सत्य रतन प्रसाद सिंह विश्वविद्यालय की ओर से भगवान बुद्ध की प्रतिमा उपहार स्वरुप भेंट की।

इस मौके पर चाइनीज डेलीगेट चीफ AIPINGLIU के साथ-साथ राष्ट्रीय सेवा योजना के रीजनल डायरेक्टर दीपक कुमार, डिप्टी डायरेक्टर, बलवीर प्रसाद यादव, ए एस ओ मोहित अग्रवाल, राष्ट्रीय सेवा योजना मगध विश्वविद्यालय के समन्वयक डॉक्टर बृजेश राय, आई आई एम के कन्वेनर प्रशांत मिश्रा तथा मगध विश्वविद्यालय के कुलसचिव नलिन कुमार शास्त्री, प्रॉक्टर नंद कुमार यादव, बौद्धिस्ट शिक्षण के विभागाध्यक्ष सुशील कुमार सिंह तथा राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयं सेवक मौजूद थे।WhatsApp Image 2017-11-19 at 3.43.29 PM

WhatsApp Image 2017-11-19 at 3.43.31 PM