जनता के हित के लिए अपमान भी सहने को तैयार – उपेन्द्र कुशवाहा

320
0
SHARE

अवध कर्ण

पटना – रालोसपा पार्टी अध्यक्ष व केंद्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि वो राज्य के जनता के हित के लिए चाहे उन्हें अपमान ही सहन करना पड़े तो वो तैयार हैं। बता दें कि विगत कुछ दिनों से ही उपेंद्र कुशवाहा ने सीट शेयरिंग और खुद को नीच कहे जाने पर और कुशवाहा समाज पर हुए लाठीचार्ज को लेकर अग्रेसिव बयान दिया था, यहाँ तक कि उन्होंने एनडीए गठबंधन में जेडीयू को लेकर भी सवाल खड़े किए, लगातार दिल्ली दौड़े पर भी रहे। इस क्रम में वे रामविलास पासवान से भी मिले, बात नहीं बनते देख विपक्षी पार्टियों के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात किये। अपने लिए एनडीए की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आते देख उन्होंने इस गठबंधन बन्धन बने रहने के लिए सरकार के समक्ष शिक्षा के क्षेत्र में एक नई 25 सूत्री माँग रख दिया है और उनका स्पष्ट कहना है कि अगर हमारी माँगो पर सरकार अम्ल करती है तो मेरे लिए जो नीतीश कुमार जी द्वारा नीच शब्द का प्रयोग किया गया था तो मैं उस अपमान को भूलने के लिए तैयार हूँ।