जन अधिकार छात्र परिषद ने पीयू के सभी कॉलेजो मे चलाया सघन जनसंपर्क अभियान, प्रचार-प्रसार हुआ तेज

364
0
SHARE

पटना – आगामी 5 दिसंबर को पटना विश्वविद्यालय मे होने वाले छात्र संघ चुनाव को लेकर आज जन अधिकार छात्र परिषद की कैंपेनिग टीम दिन-भर पटना विश्वविद्यालय के विभिन्न कॉलेजो और विभागों मे जनसंपर्क अभियान चलाते रहे और फिर शाम से देर रात तक विभिन्न हॉस्टलो मे प्रचार-प्रसार करते रहे।

दरभंगा हाउस मे सेंट्रल पैनल के संयुक्त सचिव प्रत्याशी शौकत अली और काउंसलर प्रत्याशी नीरज कुमार व कृष्णा कुमार के नेतृत्व मे, सायंस कॉलेज मे प्रदेश उपाध्यक्ष मनीष यादव, महासचिव पद के प्रत्याशी रौशन कुमार व कॉलेज काउंसलर उम्मीदवार अविनाश कुमार और अमन राज, पटना लॉ कॉलेज मे अध्यक्ष प्रत्याशी सुजीत कुमार और काउंसलर प्रत्याशी राहिल महताब, बीएन कॉलेज मे कोषाध्यक्ष प्रत्याशी मंदीप कुमार और काउंसलर प्रत्याशी रोहीत कुमार, मगध महिला कॉलेज मे जन अधिकार छात्र परिषद के प्रधान महासचिव आजाद चांद और उपाध्यक्ष प्रत्याशी मानसी सिन्हा व प्रदेश महासचिव प्रिया राज, पटना वीमेंस कॉलेज मे प्रदेश अध्यक्ष गौतम आनंद और प्रदेश सचिव अरविंद यादव, पटना कॉलेज मे प्रदेश सचिव कुंदन यादव और काउंसलर प्रत्याशी चमन कुमार के नेतृत्व मे आज दिनभर कैंपेनिग की गई। इस दौरान छात्र-छात्राओ का आपार समर्थन मिल रहा है।

साथ ही सेंट्रल पैनल के सभी प्रत्याशी दिन-भर विभिन्न कॉलेजो मे जाकर संगठन द्वारा छात्र हित मे किए गए कार्यो और संघर्ष के बल पर वोट मांग रहे है। सेंट्रल पैनल के सभी प्रत्याशियों ने संयुक्त रूप से कहा कि हमलोग छात्रों हितो के लिए हमेशा संघर्ष किया है और चुनाव जीतने के बाद भी यह संघर्ष अनवरत जारी रहेगा। इस बार हमलोग पिछली बार से काफी मजबूत स्थिति मे है, जिसका परिणाम चुनाव मे देखने को मिलेगा। संगठन ने पिछले बार भी संघर्ष के बल पर सेंट्रल पैनल का एक सीट और कॉलेज काउंसलर के कई पदो पर जीत दर्ज की थी। और इस बार भी फर्जी संगठन के फर्जी उम्मीदवारो और चुनाव मे लगे सरकारी तंत्र को हराकर हमलोग सभी पैनलो पर फतह हासिल करेंगे। हमारे सशक्त, संघर्षशील और मजबूत उम्मीदवारों के पैनल से घबरा कर सभी दल एकजुट होकल बेमेल गठबंधन कर रहे है। उनके सभी प्रत्याशी बौखला गए है और संगठन को बदनाम करने की साजिश रच रहे है जिसे हम कामयाब होने नही देंगे। जानबूझकर कुछ कॉलेजो मे फर्जी संगठन आपस मे मारपीट कर कैंपस भय का माहौल बनाकर चुनाव को प्रभावित करना चाहते है। जन अधिकार छात्र परिषद का सेंट्रल पैनल और कॉलेज काउंसलर के सभी प्रत्याशी मजबूत स्थिति मे है जिससे इस बार भी हमारे संगठन की जीत सुनिश्चित है।