जन-जन तक राष्ट्रभक्ति का संदेश पहुँचाना संघ का मुख्य उद्देश्य: नंदकिशोर

187
0
SHARE

पटना- बिहार के पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने कहा है कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सर संघचालक मोहन भागवत का बिहार दौरा राष्ट्रभक्ति के संदेश को जन-जन तक पहुँचाने के उद्देश्य से है। संघ का मूल उद्देश्य पहले देश बाद में व्यक्ति है।
यादव ने आज यहाँ कहा कि भागवत के बिहार दौरा के कार्यक्रम सूचना मात्र से कुछ राजनीतिक दलों में खलबली मच गयी है।

एक ओर जहाँ विदेशी मूल की अगुवाई में फल-फूल रही काँग्रेस को राष्ट्र भक्ति पच नहीं रही है वहीं उसक साथ हमजोली खेल रहे राजद को गोवंश में वृद्धि और गौपालकों के जीवन स्तर में सुधार के उपायों पर उत्तर बिहार में संघ प्रमुख की बैठकों से बेचैनी छायी है। पशुओं का चारा हजम करने वाले को भला यह कैसे सुहायगा। देश को तोड़ने और अलगाववादी ताकतों के खिलाफ संघ का दृष्टिकोण आईने की तरह साफ है। करोड़ों-करोड़ लोगों का संघ को मिल रहा समर्थन इसका ज्वलंत प्रमाण है।

यादव ने विपक्षी दलों की चिल्ल-पों पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि उन्हें अपने अतीत की ओर झांक कर देखना चाहिए। जनता जानती है कि देश की एकता और अखंडता को तोड़ने वाले नापाक संगठनों को किस राजनीतिक दल का संरक्षण है और गरीब पशुपालकों की हकमारी करने वाला कौन दल है। आर0एस0एस0 प्रमुख का देश कल्याण का दृष्टिकोण समाज के सभी वर्ग को एकसूत्र में पिरोने वाला और राष्ट्रवादी विचारों से ओत प्रोत कर उन्हें आर्थिक रूप से स्तरोन्नयन करने वाला है चाहे वह गोवंश का संबर्द्धन का मामला हो या पशुपालकों के आर्थिक रूप से उत्थान का।