..जब गोपालगंज में मुर्दों ने उठाया डीजल अनुदान

2746
0
SHARE

गोपालगंज: बिहार के गोपालगंज जिले के बैकुंठपुर प्रखंड में मुर्दों ने भी डीजल अनुदान योजना की राशि का उठाव किया है। आप को यह बात थोड़ी अटपटी लग रही है। लेकिन सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार हकीकत है। मामला सिरसा मानपुर पंचायत का है जहां 5 वर्ष पहले मर चुके लोगों का हस्ताक्षर करके अनुदान योजना की राशि का गबन कर लिया गया है।

आक्रोशित किसानों ने इस बात को लेकर प्रखंड मुख्यालय पर घेराव करते हुए प्रखंड कृषि कार्यालय के कर्मियों एवं पदाधिकारियों पर राशि गबन करने का आरोप लगाते हुए जांच की मांग की है।

मानपुर गांव के रामनाथ ठाकुर ने बताया कि उनके भाई छवि नाथ ठाकुर की मौत 5 वर्ष पहले हो चुकी है। इसी गांव के ब्रजेश सिंह के पिता कपिल सिंह की मौत 4 वर्ष पहले तथा सिरसा गांव के सुरेंद्र पांडेय की मौत 4 वर्ष पहले हो गई है। इनके नाम पर जाली हस्ताक्षर कर राशि का उठाव कर दिया गया है।

वहीं सुदामा सिंह, चंद्रिका सिंह दीनानाथ सिंह, विश्वनाथ सिंह ,ज्योति भूषण सिंह ,शशि भूषण सिंह, अखिलेश ठाकुर, अखिलेश कुमार, शहडोल मियां, बामदेव सिंह कृपा सिंह, रामाज्ञा सिंह, श्री भगवान सिंह ,गणेश पांडेय, सरस्वती कुवर, नागेश्वरी कुवर सहित कई किसानों का आरोप है कि उन्होंने वर्ष 2014 – 15 में डीजल अनुदान की सूची में नाम होने के बावजूद राशि नहीं लिया है।

मानपुर गांव के दिनानाथ शाह ने सूचना के अधिकार के तहत पंचायत की डीजल अनुदान योजना की सूची की मांग की थी। राज्य सूचना आयोग के आदेश पर बैकुंठपुर कृषि कार्यालय द्वारा महीनों बाद सूची उपलब्ध थाली में कराई गई है। किसानों ने जब मृतकों के नाम पर तथा अन्य किसानों के नाम पर फर्जी उठाव की बात की तो लोग उग्र हो गए और मंगलवार को बीडीओ निभा कुमारी का घेराव कर डाला।

आवेदक दिनानाथ सिंह ने बताया कि पंचायत के 450 किसानों के लिए 144000 रुपए की राशि डीजल अनुदान योजना के तहत स्वीकृत हुई थी। किसानों ने आवेदन देकर मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग की। दोषी कर्मी तथा अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई करने की गुहार लगाई है।

श्रोत: हिन्दुस्तान