जमालपुर में राज्य सरकार के खिलाफ सपा का आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन

655
0
SHARE

जमालपुर(प्रिंस दिलखुश): बरियारपुर प्रखंड के बाढ़ पीड़ितों पर मुकदमा, सामान्य मुआवजा राशि का अविलंब वितरण एवं बाढ़ क्षेत्र के किसानों के बैंक ऋण माफ करने के सवाल को लेकर समाजवादी पार्टी चौधरी चरण सिंह जयंती सप्ताह के अवसर पर बरियारपुर प्रखंड इकाई के अध्यक्ष श्री देव सिंह के नेतृत्व में आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन कर सरकार और स्थानीय प्रशासन के विरोध जमकर भड़ास निकाली।

प्रदर्शन में मुख्य रुप से शामिल समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष पप्पू यादव के साथ ही सैकड़ो सपाई ने प्रखंड के मुख्य मार्गो पर प्रदर्शन करते हुए सरकार के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की प्रदर्शनकारी बाढ़ पीड़ितों पर किए गए मुकदमे को वापस करो,जिला प्रशासन खोलो कान नहीं तो होगा नींद हराम,दम है कितना दमन में तेरे देख रहे हैं,देखेंगे जब तक भूखा इंसान रहेगा, धरती पर तूफान रहेगा आदि नारे लगाते हुए अंचल कार्यालय पहुंच आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन किया।

इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए सपा जिलाध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि जिस जिला में स्थापना दिवस के नाम पर करोड़ों रुपए अधिकारियों के पिकनिक की भेंट चढ़ गई।उसी जिले के इस प्रखंड में अपने अधिकार के लिए आंदोलन कर रहे बाढ़ पीड़ितों पर मुकदमा सरकार के ठपोरसंखि नीतियों का प्रमाण है, और यह स्पष्ट हो गया कि जिले के वरिष्ठ पदाधिकारियों से लेकर कनिष्ठ पदाधिकारियों तक भ्रष्टाचार में शामिल है। श्री यादव ने कहा कि हमने सदैव व्यवस्था परिवर्तन के लिए संघर्ष किया है। लेकिन दुर्भाग्य है कि इस धरती का, की जिसने कई योग्य नेता दिए। वही आज अराजकता है। वहीं उन्होंने कहा कि एक पखवाड़े के अंदर यदि बाढ़ पीड़ितों को न्याय नहीं मिला तो सपाई जिले की व्यवस्था ठप कर देगी।

सभा को संबोधित करते हुए जिला उपाध्यक्ष विद्या किशोर,सचिव मोहम्मद आजम,अमरशक्ति ने कहा कि बरियारपुर प्रखंड की जनता समस्याओं के भंवर जाल में उलझ कर रह गई है,और आंदोलन को दबा रही है।लेकिन हम सपाई डरने वाले नहीं हैं। प्रखंड की जनता को न्याय नहीं मिला तो संघर्ष तेज किया जाएगा।

वहीँ अध्यक्षता करते हुए प्रखंड अध्यक्ष त्रिदेव सिंह ने कहा कि पिछले दिनों बाढ़ पीड़ितों पर मुकदमा करके यहां के अंचलाधिकारी ने तानाशाही का परिचय दिया है।जिसे हम समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे।वहीं श्री सिंह ने कहा कि पंद्रह दिनों के अंदर यदि जिला प्रशासन मुकदमा वापस नहीं लेती है।तो आंदोलन तेज किया जाएगा।

प्रदर्शन में मुख्य रुप से जिला कमेटी के प्रवक्ता अशोक भारत, मनीष यादव, मनोज क्रांति, राजकुमार शर्मा, रुपेश कुमार छोटू, प्रभाकर राम, अमित कश्यप,पप्पू मंडल, सचिव सत्यजीत कुमार,किशोर कुमार, राजकुमार, बंटी,जीतेन्द्र यादव, बादल यादव, हिमांशु, रजत कुमार सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे।