जविपा सुप्रीमो अनिल कुमार ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बनाई मानव श्रृंखला पर मांगा श्‍वेत पत्र

163
0
SHARE

पटना: जनतांत्रि‍क विकास पार्टी आगामी 18 फरवरी को राजधानी पटना में बेरोजगारी, भ्रष्‍टाचार, सीएए व शिक्षा की बदहाली के खिलाफ एक मानव श्रृंखला बनायेगी। इसकी जानकारी आज पटना में संवाददाता सम्‍मेलन के दौरान जविपा सुप्रीमो अनिल कुमार ने दी। साथ ही उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से उनके द्वारा आज तक लगाई गई सभी मानव श्रृंखला पर श्‍वेत पत्र जारी करने की मांग की।

अनिल कुमार ने नीतीश कुमार द्वारा जल जीवन हरियाली मानव श्रृंखला पर सवाल खड़े किये। उन्‍होंने कहा कि नीतीश कुमार ने दहेज बंदी के लिए श्रृंखला बनायी, मगर क्‍या बिहार में दहेज बंद हुआ ? शराबबंदी के लिए श्रृंखला बनायी, मगर आज धड़ल्‍ले से शराब की होम डिलवरी हो रही है। राजधानी पटना में ही थाने में पुलिस कर्मी शराब बंदी के बावजूद शराब का जश्‍न मना रहे थे। उन्‍होंने जदयू और भाजपा पर सूबे में शराब ब्रिकी का सिं‍डेकेट बनाने का आरोप भी लगाया। उन्‍होंने कहा कि आज बिहार में शराब बिक्री में नेता – पदाधिकारी की संलिप्‍तता बराबर की है।

अनिल कुमार ने मुख्‍यमंत्री द्वारा दिल्‍ली चुनाव में दिये बयान पर भी हमला बोला और कहा कि नीतीश कुमार के स्‍कूलों की दशा कैसी है, ये किसी से छिपी नहीं। ऐसी ओछी बयानबाजी कर वे बिहार की जग हंसाई करवा रहे हैं। खुद नीतीश कुमार अब बिहार की खिल्‍ली उड़वा रहें हैं। उन्‍होंने पटना विवि को नेक से सी ग्रेड मिलने के सवाल चिंता जताई और कहा कि पटना विवि कभी पूर्वात्तर भारत में शिक्षा का केंद्र माना जाता था। लेकिन आज उसकी हालत भी विवि कहलाने लायक नहीं है। डबल इंजन की सरकार है, लेकिन फिर भी नीतीश कुमार पटना विवि को केंद्रीय विवि का दर्जा नहीं दिलवा पाये।

उन्‍होंने पूछा कि क्‍या मुख्‍यमंत्री जी कभी पटना विवि देखने भी गए। नहीं। वे सिर्फ अपनी राजनीति में व्‍यस्‍त हैं। अनिल कुमार ने कहा कि बिहार बेरोजगारी, भ्रष्‍टाचार और शिक्षा की बदहाली से त्रस्‍त हैं। मुख्‍यमंत्री जी ने 15 सालों में बिहार में भ्रष्‍टाचार की जमीन तैयार कर दी है। मुख्‍यमंत्री जी बिहार के युवाओं को वोट देने की मशीन मात्र न समझें। अब हमारे बच्‍चों और युवाओं को अच्‍छी शिक्षा भी चाहिए। रोजगार भी चाहिए। भ्रष्‍टाचार से निजात भी चाहिए। और संविधान विरोधी सीएए और एनपीआर को सरकार को वापस लेना चाहिए। इन्‍हीं मांगों को लेकर हमारी पार्टी 18 फरवरी को पटना में अशोक राज पथ से वाया कारगिल चौक, सचिवालय तक मानव श्रृंखला लगायेंगे।

अनिल कुमार ने सीएए का जदयू द्वारा समर्थन करने पर हमला बोला । कहा – नीतीश कुमार सदन में कुछ और करते हैं और बाहर धर्मनिरपेक्षता का कार्ड खेलते हैं। ये अब नहीं चलेगा। आज बिहार की हालत राजद के जंगल राज से भी बद्दतर है। बिहार की जनता को नीतीश कुमार से सावधान रहने की जरूरत है। संवाददाता सम्‍मेलन में तकनीकी प्रकोष्‍ठ के अध्‍यक्ष ई. रवि प्रकाश, छात्र परिषद अध्‍यक्ष आयुष, युवा परिषद उपाध्यक्ष डॉ राकेश रंजन भी मौजूद रहे।