जहानाबाद में लोगों ने दरोगा को लाठी और लात-घूंसे से धुना

630
0
SHARE

जहानाबाद: बिहार के जहानाबाद में एक थानाध्यक्ष को लोगों ने लाठी और लात-घूंसे से जमकर पीटा। यह घटना तब हुई जब थानाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार नगर थाना क्षेत्र के मलहचक मोड़ पर चोरी की एक घटना की छानबीन करने पहुंचे थे। उसी दौरान  काको थानाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार की स्थानीय दुकानदारों ने पिटाई कर दी। दुकानदारों की पिटाई से घायल थानाध्यक्ष को इलाज के लिये सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

घायल थानाध्यक्ष ने बताया के चौदह दिसंबर की रात काको थाना क्षेत्र से एक मोटर साइकिल की चोरी हुई थी। चोरी की गई मोटर साइकिल का लोकेशन मलहचक मोड़ का मिल रहा था। रात आठ से नौ के बीच में वह अपने दो पुलिसकर्मियों के साथ मलहचक पहुंचे जहां एक चाउमिन दुकान के समीप बैठे कुछ संदिग्ध लोगों से पूछताछ करने लगे।

थानाध्यक्ष के मुताबिक पूछताछ के दौरान चाउमिन दुकानदार संदिग्ध लोगों की तरफदारी करने लगा। जब उन्होंने इसका विरोध किया तो वह पुलिस को ही अपराधी बताकर हंगामा शुरू कर दिया। इसके बाद आसपास के दुकानदार और कई महिलाएं इकठ्ठा हो गयी और बिना सोचे समझे लात घूंसे और डंडे से पिटाई शुरू कर दी।

मारपीट की घटना में काको थानाप्रभारी अमेंद्र कुमार को हाथ और पीठ के अलावा चेहरे पर काफी चोट आई है। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस खबर के बाद एसपी आदित्य कुमार थानाप्रभारी को देखने सदर अस्पताल पहुंचे। उन्होंने बताया कि हमला करने वाले लोगों की पहचान हो गयी है जिन्हें जल्द से जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि फरार लोगों की तीन दिनों के अंदर कुर्की ज़ब्ती की कार्रवाई की जाएगी।

वहीं स्थानीय लोग इस मामले में कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं लेकिन कुछ लोग दबी जुबान में थानाप्रभारी के भूमिका पर भी सवाल उठा रहे हैं। गौरतलब है कि इस घटना के बाद मलहचक मोहल्ले की कई दूकानदारों ने अपनी अपनी दुकान बंद कर ली है।