जिलाधिकारी ने परिवहन मेला सह ऋण शिविर का किया उद्घाटन

494
0
SHARE

पटना – जिलाधिकारी कुमार रवि ने आज गांधी मैदान पटना में मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के अंतर्गत परिवहन मेला सह ऋण शिविर का उद्घाटन किया।

जिलाधिकारी ने परिवहन मेला सह ऋण शिविर में 94 लाभुकों के बीच वाहन वितरित किया। परिवहन मेला में मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना अंतर्गत 04 से 10 सीट के नये सवारी वाहन का प्रदर्शनी टाटा, महिन्द्रा, Piaggio, Bajaj, Atul एवं Maruti कम्पनियों ने लगाया।

टाटा फाईनेन्स, महिन्द्रा फाईनेन्स, आई0डी0बि0आई0 फाईनेन्स द्वारा अपना-अपना स्टाॅल लगाया गया। प्रथम चरण में अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा स्वीकृत तथा प्रखंड विकास पदाधिकारियों द्वारा दिये गये चयन पत्र के आधार पर आॅन स्पाॅट ऋण की सुविधा एवं वाहन क्रय की सुविधा प्रदान की गई।

परिवहन मेला सह ऋण शिविर में 214 स्वीकृत लाभुकों में से 94 लाभुकों के द्वारा गाड़ी क्रय की गई। 94 लाभुकों को जिलाधिकारी ने गाड़ी की चाभी हस्तगत कराया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने सभी लाभुकों को इस योजना के बारे में बताया लाभुकों को यह भी बताया कि वे जल्द से जल्द निबंधन करा कर निबंधन कागजात, तृतीय पक्ष बीमा का कागजात और गाड़ी क्रय विपत्र प्रखंड विकास पदाधिकारी के पास जमा करें ताकि अनुदान की राशि उनके खाते में हस्तानांतरित हो सके।

जिलाधिकारी ने बताया कि अनुदान की राशि वाहन के खरीद मूल्य का 50 प्रतिशत परन्तु अधिकतम 01 लाख रुपया है। वाहन के खरीद मुल्य से अभिप्राय है वाहन का एक्स शो-रूम मूल्य तृतीय पक्ष बीमा एवं वाहन टैक्स तीनों को जोड़कर कुल राशि। यदि वाहन की खरीद किसी वित्तीय संस्थान से ऋण लेकर किया गया है, तो अनुदान की राशि का उपयोग आवेदक द्वारा ऋण के भुगतान में ही किया जायेगा।

जिलाधिकारी ने सभी लाभुकों को शुभकामना देते हुए कहा कि इस योजना के अंतर्गत क्रय गाड़ी का परिवहन पंचायत से प्रखंड मुख्यालय/जिला मुख्यालय तक करें। गाड़ी से प्राप्त आय से ऋण चुकता करते हुए शेष राशि से अपने परिवार का भरण पोषण करें एवं परिवार के जीवन स्तर को ऊँचा उठाएं। अनुदान की राशि का उपयोग वित्त पोषण करने वाली संस्था के ऋण को चुकाने में किया जाय।

जिलाधिकारी ने कहा कि द्वितीय चरण में आवेदन की तिथि 31.12.2018 तक है। जिन लाभुकों द्वारा अभी तक आॅनलाईन आवेदन नहीं किया गया है, वे अपना आवेदन निश्चित रूप से करें तथा इस योजना के तहत लाभ उठाएँ। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में जिले के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को 01 करोड़ 87 लाख रुपये का आवंटन उपलब्ध करा दिया गया है।

जिलाधिकारी ने परिवहन मेला सह ऋण शिविर को सफल बताते हुए जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया कि द्वितीय चरण के समाप्ति के बाद फिर से परिवहन मेला सह ऋण शिविर का आयोजन करें ताकि अधिक से अधिक लाभुक लाभांवित हो सकें।

जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि एक सप्ताह के अंदर जितने भी लाभुक हैं उनको वाहन क्रय कराना सुनिश्चित करते हुए अनुदान की राशि उनके खाता में हस्तानांतरित करायें।

इस अवसर पर जिलाधिकारी कुमार रवि के साथ सचिव क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकार सुशील कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी पटना सदर सुहर्ष भगत, जिला परिवहन पदाधिकारी अजय ठाकुर, सभी अनुमंडल पदाधिकारी सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं सभी लाभुक उपस्थित थें।