जिलाधिकारी ने स्वच्छता रथ भ्रमण कार्यक्रम को लेकर पदाधिकारियों को दिया निर्देश

179
0
SHARE

पटना – जिलाधिकारी कुमार रवि ने स्वच्छता रथ का भ्रमण कार्यक्रम दिनांक 09 जुलाई, 2018 से 14 जुलाई, 2018 तक पटना जिला अंतर्गत सभी प्रखंडों में चलाये जाने की जिम्मेवारी पटना जिला के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को दिया।

जिलाधिकारी ने पटना जिला के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को प्रखंड अंतर्गत सभी पंचायतों में वार्ड भ्रमण, प्रचार-प्रसार, शौचालय निर्माण की तकनीकी जानकारी देते हुए शौचालय निर्माण के प्रति समुदाय में जागरूकता फैलाते हुए स्वच्छता की शपथ दिलाना एवं समुदाय के जिम्मेवार व्यक्तियों के बीच पम्पपलेट का वितरण, कार्यक्रम के अंतिम तिथि को निर्धारित स्थान पर गढ्ढा खोदो अभियान चलाने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने पटना जिला के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया कि अपने प्रखंड अंतर्गत कार्यक्रम का फोटोग्राफ एवं प्रतिवेदन Whatsapp Sanitation Campaign Group पर उपलब्ध करायेंगे। जिलाधिकारी द्वारा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि कार्यक्रम स्थल का चयन एक दिन पूर्व कर लेंगे एवं जन प्रतिनिधियों से समन्वय स्थापित कर अधिक से अधिक संख्या में लाभुकों की उपस्थिति दर्ज करवाएंगे। सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी संबंधित ग्राम पंचायतों के स्वच्छाग्राही अपने-अपने पंचायतों में कार्यक्रम के दौरान वार्डवार स्वच्छता रथ का परिचालन कराते हुए समुदाय के जिम्मेवार व्यक्तियों के बीच पंपलेट का वितरण करते हुए CLTS Tringrin का आयोजन कराना सुनिश्चित करेंगे।

जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि निर्धारित समय पर कार्यक्रम को सफल कराने हेतु रथ के संचालक से सम्पर्क स्थापित करते रहेंगे।उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों एवं प्रखंड परियोजना प्रबंधक (जीविका) को निर्देश दिया कि कार्यक्रम स्थल पर सभी बी.पी.एम.यू. के सदस्य ग्रास रूट वर्क्स के साथ स्वयं भी उपस्थित रह कर कार्यक्रम के सफल निष्पादन को सुनिश्चि करेंगे।

जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड परियोजना पदाधिकारी जीविका को निर्देश दिया कि संबंधित ग्राम के स्वयं सहायता समूह की दीदीयों की उपस्थिति सुनिश्चित करायेंगे। उन्होंने कहा कि सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों का यह दायित्व होगा कि वे जनप्रतिनिधियों एवं समुदाय का सहयोग प्राप्त कर कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु अंतिम प्रतिवेदन जिला जल एवं स्वच्छता समिति कार्यालय में समर्पित करेंगे। उन्होंने निर्देश दिया कि सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी आयोजित समस्त मुख्य कार्यक्रम स्थल पर होने वाले कार्यक्रम का विडियोग्राफी/फोटोग्राफी कराते हुए एक प्रति उप विकास आयुक्त के कार्यालय में भेजना सुनिश्चित करेंगे।