ट्रक के अंदर बंद केबिन में ट्रक चालक का शव बरामद

395
0
SHARE

दिलीप कुमार

कैमूर – जिले में लगातार आपराधिक ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। अपराधी दीपावली के दिन दिनदहाड़े एक ट्रक चालक की हत्या कर शव को ट्रक में ही होटल के पास छोड़ जाते हैं, लेकिन पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगती है। जब ट्रक के मालिक ने जीपीएस पर लगातार लोकेशन कई घंटों से एक ही जगह देखा तो थाने को फोन किया। तब जाकर पुलिस को वारदात का पता चला। दीपावली के दिन ही चालक का अपराधियों ने हत्या कर डाला और अपराधी पुलिस पकड़ से बाहर है। यह घटना कल रात दस बजे पुलिस को पता चला, लेकिन लोगों की मानें तो शाम में ही घटना को अंजाम दे चुके थे अपराधी।

कैमूर जिले के मोहनिया थाना से एक किलोमीटर पश्चिम ट्रक के अंदर बंद केबिन में ट्रक चालक का शव मिला। सूचना मिलते ही मोहनिया डीएसपी मोहनिया थाना सहित कई पुलिस वाले घटनास्थल पर पहुंच गए, जहां चालक के सर पर गंभीर चोट के निशान थे तो चालक के गले को धारदार हथियार से रेता गया था।

परिजन ने बताया कि हम लोग को दूसरे के माध्यम से पता चला कि इनकी हत्या हो गई है। कैसे हुआ है कुछ जानकारी नहीं मिल रहा है। सूचना मिलने के बाद हम लोग थाना पहुंचे हैं।

वहीं मोहनिया डीएसपी रघुनाथ सिंह ने बताया ट्रक वाराणसी से गेहूं लोड कर झारखंड जा रहा था। उसके मालिक द्वारा ट्रक का लोकेशन जीपीएस पर देखने पर लगातार मोहनिया बता रहा था। उसके मालिक ने थाने को सूचना दिया जब पुलिस उस ट्रक के पास पहुंची तो देखी कि ट्रक के अंदर केबिन में चालक का शव पड़ा हुआ है।

चालक परशुराम पासवान है जो औरंगाबाद के दाउदनगर का रहने वाला है। इसके साथ खलासी भी था जिसको चालक ने हीं रखा हुआ था। फिलहाल खलासी फरार है। चालक का मोबाइल भी गायब है। आशंका जताया जा रहा है कि खलासी ने हीं चालक का हत्या कर साक्ष्य छुपाने के डर से मोबाइल लेकर फरार हो गया होगा। तहकीकात किया जा रहा है। खलासी के मिलने के बाद ही हत्या की गुत्थी सुलझेगा।