तीन तलाक के मुद्दे पर भड़क उठे कंवलजीत सिंह

127
0
SHARE

मुंबई- तीन तलाक इन दिनों एक संवेदनशील मुद्दा बना हुआ है जिसपर कोर्ट का निर्णय भी आ चुका है लेकिन सरकार इस मामले को सांप्रदायिक रंग नहीं देना चाहती इसलिए सधे कदमों से आगे बढ़ रही है ताकि समुदाय विशेष में नाराज़गी न पैदा हो। तीन तलाक पर भले ही एक खास वर्ग में गुस्से का उबाल हो, लेकिन अभिनेता कंवलजीत सिंह का गुस्सा भी उस समय फूट पड़ा जब इस फ़िल्म की स्पेशल स्क्रीनिंग में उनसे तीन तलाक के संदर्भ में सवाल किया। उन्होंने कहा कि तीन तलाक जैसी चीज आज के मॉडर्न ज़माने में हो रही है।

पुरुष एसएमएस करके या फोन पर ‘तीन तलाक’ दे देते है और महिला को कह देते है ‘जा तुझे छोड़ा’। यह न अक्ल की बात है, न कोई सही बात है। कंवलजीत सिंह ने यह भी कहा कि यह फ़िल्म किसी विशेष पार्टी को खुश करने के लिए नही बनाई गई है। लेख टन्डन जैसे लेखक निर्देशक इस सोच के साथ फ़िल्म कतई नही बना सकते। समाज का एक ईशू उनके दिल पर लगा और उन्होंने इसे फ़िल्म का रूप दे दिया।

बता दें कि तीन तलाक के ज्वलंत मुद्दे पर आधारित स्वर्गीय लेख टण्डन की फ़िल्म ‘फिर उसी मोड़ पर’ फ़िल्म की विशेषता यह है कि इसे देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के भतीजे त्रिनेत्र बाजपाई ने प्रोड्यूस की है। इस फ़िल्म को बर्लिन फ़िल्म फेस्टिवल में दिखाया गया है और इसे गोल्डन ट्रायंगल इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल में बेस्ट म्यूजिक का अवार्ड दिया गया है। इस अवसर पर मौजूद फ़िल्म एक्टर कंवलजीत सिंह ने लेख टन्डन से अपने पुराने और गहरे रिश्ते का ज़िक्र किया और कहा कि फ़िल्म में शाहरुख खान या अक्षय कुमार नही है लेकिन फ़िल्म लोगों की आंख खोलने वाली है। इसकी स्पेशल स्क्रेनिंग रखने का उद्देश्य यही है कि इसे ऐसे लोगो को दिखाया जाए जो इसे टैक्स फ्री करवाने की गुजारिश कर सकते है। ताकि इसका मैसेज ज़्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुंच सके।