तेजस्वी की पॉजिटिव राजनीति शहाबुद्दीन ही है !

1314
0
SHARE

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का अपमान होता रहा। आरजेडी कोटे के मंत्री चुपचाप देखते रहे। बिहार के उपमुख्यमंत्री और आरजेडी खानदान के वारिस तेजस्वी यादव ने आज ट्वीट कर लिखा है कि वो नेगेटिव राजनीति नहीं करते। वाकई राजनीति में कोई भी इस बात को समझ सकता है कि ऐसे बोल तब ही क्यूं निकलते हैं जब विरोधियों को नसीहत देने की जरूरत होती है। विरोधी तो बाद में आएंगे, पहले तेजस्वी यादव इसका जवाब क्यूं नहीं दे रहे कि जिस मुख्यमंत्री के साथ वो राजकाज सीख रहे हैं, उन्हें एक आपराधिक छवि का नेता खुलेआम दो कौड़ी का कह रहा है और उस पर जवाब देने के बजाय बगले झांक रहे हैं। सवाल सीधा है कि शहाबुद्दीन ने उनके मुख्यमंत्री को परिस्थितियों का सीएम बताया और यह भी कहा कि वे अपनी बदौलत बीस सीट भी नहीं जीत सकते हैं। तो इसका जवाब न देकर पॉजिटीव राजनीति की बात कह रहे हैं।

tejasvi-tweetतब नेगेटिव कौन फैला रहा है? उनकी पार्टी के सभी मंत्री चुपचाप मुख्यमंत्री का अपमान होते सुन रहे हैं। पर कोई चूं भी नहीं कर रहा क्यूंकि मंत्री आज भी लालू यादव के सामने खड़े होकर अपनी बात कहने की हिम्मत नहीं रखते। इन सबसे तो अच्छा शहाबुद्दिन है जो डंके की चोट पर नीतीश कुमार पर खुल कर वार पे वार कर रहा है। और पार्टी सुप्रीमो लालू यादव भी उसकी बातों का समर्थन कर रहे हैं। अब तक लालू यादव जो कहते थे वो पार्टी की लाइन होती थी लेकिन ये पहला मौका है कि tweet2जो शहाबुद्दीन कह रहे हैं वही पार्टी की लाइन बन गई। ऐसे में अगर आरजेडी का मकसद मुख्यमंत्री के कद को छोटा करना है तो आरजेडी इस मामले में फिलहाल कामयाब है और तेजस्वी भी पॉजिटिव राजनीति कर रहे हैं क्यूंकि शहाबुद्दीन की राजनीति ही उनके लिए पॉजिटिव राजनीति है।

आपके पिता और माताजी जब बिहार पर शासन कर रहे थे तो वो भी पॉजिटीव राजनीति की ही बात करते थे पर असल में शहाबुद्दीन और आपके मामा साधु-सुभाष जैसे लोगों को समर्थन और राजनीतिक संरक्षण ने बिहार को जंगलराज में ढकेल दिया।