तेजस्वी जब तक नहीं बन जाते मुख्यमंत्री, तबतक रखूंगा मौन व्रत: राजद नेता

797
0
SHARE

गोपालगंज: बिहार के गोपालगंज जिले में राजद के एक नेता की जिद लोगों के बीच चर्चा का विषय बनी हुई है। जी हां, यह स्थानीय नेता राजद के अतिपिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ से आते हैं। नेताजी ने एक ऐसी तपस्या शुरू कर दी है, जिसे जानने-सुनने के लिये सभी लोग उत्सुक हैं।

जानकारी के मुताबिक राजद नेता ने बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के मुख्यमंत्री बनने के लिये मौन व्रत का पालन कर रहे हैं। राजद अतिपिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के वरीय प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप देव राजद अध्यक्ष लालू यादव के पुत्र और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव को मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं।

प्रदीप देव के निजी सचिव प्रवीण गुप्ता ने बताया कि राजद अतिपिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप देव राज्य के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव को बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहते है। इसी मन्न्त को लेकर वे पूरे नवरात्र भर मौन धारण किये हुए है।

इतना ही नहीं उन्होंने बनारस से पांच उच्च कोटि के जानकार ब्राह्मणों को बुलाकर गुरु विवेकानंद पांडेय जी के देख-रेख में पूजा अर्चना भी करा रहे हैं। प्रदीप देव सामाजिक न्याय के लिए राजद सुप्रीमो श्री लालू प्रसाद को अपना प्रेरणा स्रोत मानते हैं तो दूसरी तरफ तेजस्वी प्रसाद यादव को अपना नेता मानते हैं।

उनका कहना है कि लालू प्रसाद द्वारा बिहार में सामाजिक न्याय को स्थापित किया गया है, जो बिहार के गरीब, दलित, अतिपिछड़ा, अल्पसंख्यक, कभी नहीं भूल सकते। उनका कहना है कि श्री लालू प्रसाद के बाद सामाजिक न्याय एवं आर्थिक बेवस्था को मजबूत करने का छमता सिर्फ और सिर्फ तेजस्वी प्रसाद यादव में है।

वही दूसरी तरफ पूजा आयोजन समिति के अध्य्क्ष गुरु विवेकानन्द जी के अनुसार विजयदाशमी के दिन भारी पैमाने पर हवन कराया जाएगा जिसकी तैयारी चल रही है। गुरु विवेकानंद पाण्डेय के अनुसार तेजस्वी यादव एक दिन राष्ट्र स्तर का नेता बनेंगे। प्रदीप देव के अनुसार जब तक तेजस्वी प्रसाद यादव बिहार के मुख्यमंत्री नहीं बन जाते तब तक प्रति वर्ष नवरात्र में “मौन धारण” व्रत रखेंगे।

सभार: जागरण