दस लाख लूट का उद्भेदन

384
0
SHARE

मुकेश कुमार सिंह

सहरसा – पुलिस को मिली भारी सफलता। एक प्राइवेट इंसयोरेन्श कंपनी सीएमएस का दस लाख रुपये बैंक में जमा करने के दौरान कंपनी के इम्प्लाई के द्वारा फर्जी दस लाख नगद की लूट का किया उद्भेदन। बैंक में जमा करने जाने के दौरान अमित ने सोची समझी साजिश के तहत अपने ही दोस्त जो कि इंसयोरेन्श कंपनी में कार्यरत निर्मल, वेभब, अंकुश से मिलकर फर्जी लूट को दिया अंजाम। इम्प्लाई वेभब के घर से पुलिस ने तकरीबन दस लाख नगद किया बरामद। साथ ही इंसयोरेन्श के चार इम्प्लाई को गिरफ्त में लेकर जुटी तफ्तीश में। घटना सदर थाना क्षेत्र के विद्दापति नगर के पास की।

गुप्त सूचना मिलने के फौरन बाद पुलिस हरकत में आई और अमित एवं उसके तीन साथी को फौरन गिरफ्त में ले ली। बता दें कि पुलिस अमित से तफ्तीश के दौरान वेभब के घर से लूट की रकम होने की बात कही उसके फ़ौरन बाद पुलिस छापामारी कर तकरीबन दस लाख रुपये समेत तीन बाइक समेत चारों को गिरफ्त में ले लिया।

सहरसा पुलिस के इतिहास में इतनी तेजी से उद्भेदन की पहली घटना मानी जा रही है। लेकिन जो भी हो पुलिस के इस तत्परता की कार्रवाई पर जहां पुलिस महकमा फुले नहीं समा रही है वहीं थोड़ी देर के लिए ही सही आम आवाम पुलिस की इस कार्यशैली पर चकित जरूर है।