दिमागी संतुलन खो चुके हैं सुशील मोदी: तेजस्वी यादव

577
0
SHARE

पटना: बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने शनिवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी पर जोरदार हमला बोला है। तेजस्वी ने सुशील मोदी को मेंटली रिटायर्ड बताते हुए यहां तक कह डाला कि उन्हें पॉलिटिकली तौर पर रिटायरमेंट ले लेना चाहिए।

उन्होंने कहा कि राज्यसभा न जाने का दर्द सुशील मोदी से झेला नहीं जा रहा है। यहां तक की भाजपा में भी उनकी पूछ नहीं है और उनके पास मुद्दों का अभाव है।

दरअसल तेजस्वी सुशील मोदी के उस ट्वीट ने नाराज़ हैं जिसमें पूर्व उपमुख्यमंत्री मोदी ने पथ निर्माण विभाग की योजनाओं के लिए केंद्र सरकार को क्रेडिट दिया है। तेजस्वी ने कहा कि राज्य सरकार एडीबी से ऋण लेकर योजनाओं पर काम कर रही है जिसका ऋण राज्य सरकार को ही चुकता करना है लेकिन सुशील मोदी इसे केंद्र की मदद बताने का दुष्प्रचार कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि कुछ लोगों को पथ निर्माण विभाग की विकास गति से बेचैनी हो रही है। उनसे विकास का काम देखा नहीं जा रहा है। नोटबंदी के कारण कॉन्ट्रेक्टरों को काम करने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ये सही है कि कई प्रोजेक्ट को पूरा करने में देरी हुई है। लेकिन विभाग जल्द ही अपने लक्ष्य को पूरा कर लेगा।

सुशील मोदी सड़क निर्माण को लेकर गलत बयान दे रहे है। वहीं गंगा पर बनने वाले नए पुल पर भी सुशील मोदी भ्रम पैदा कर रहे है। बिहार सरकार ने गंगा पर पुल निर्माण के लिए केंद्र सरकार के माध्यम से एडीबी से कर्ज लिया है। जिसे चुकाने की जिम्मेदारी केंद्र की नहीं बल्कि राज्य सरकार की है।

तेजस्वी यादव ने कहा कि सुशील मोदी को दरअसल इस बात की तकलीफ हो रही है कि उन्हें पीएम मोदी जी और अमित शाह ने किनारे करते हुए राज्यसभा नहीं भेजा। इसके बाद से वो अपना दिमागी संतुलन खो चुके हैं।