दिल्ली को देख प्रदूषण की जांच कर योजना बनाएगा पटना नगर निगम

545
0
SHARE

पटना: देश की राजधानी दिल्ली की अनियंत्रित प्रदूषण के खतरे को देखते हुए पटना नगर निगम ने अभी से ही तैयारी शुरू कर दी है। ताकि भविष्य में राजधानी में दिल्ली जैसी नौबत न आए। क्योंकि पटना की हवा में भी जहरीली गैस की मात्रा मानक से पांच गुनी अधिक तक पहुंच जाती है। कई मौकों पर पटना का वायु, जल और ध्वनि प्रदूषण भी उच्चतम स्तर पर पहुंच जाता है।

राजधानी पटना में प्रदूषण का स्तर जांचने के लिए इंकली कंपनी के साथ एमओयू साइन किया जाएगा। पर्यावरण में मौजूद हर तरह के प्रदूषण की जांच होगी। कंपनी नियमित अंतराल पर शहर के प्रदूषण का आंकड़ा जारी करेगी। इससे सुधार के लिए गाइडलाइन तैयार किया जाएगा।

नगर आयुक्त अभिषेक सिंह ने बताया कि शहर का प्रदूषण उत्सर्जन एक बड़ी चुनौती है। इसे ठीक करने के लिए स्टडी जरूरी है। एजेंसी से प्राप्त डाटा को ध्यान में रखते हुए शहर की योजनाएं बनाई जाएंगी। इससे ठोस कचरा प्रबंधन से लेकर साफ-सफाई को बेहतर करने के लिए निगम की तैयारी बेहतर होगी।

इंकली कंपनी वर्तमान समय में विश्व के 15 सौ शहरों के साथ मिलकर प्रदूषण नियंत्रण के लिए काम कर रही है। भारत और बांग्लादेश को मिलाकर पटना 21 वां शहर होगा, जहां नगर निगम के माध्यम से शहर के प्रदूषण उत्सर्जन के कारण को ढूंढ़ा जाएगा।