दिवाली का तोहफा, भागलपुर से हावड़ा के लिए दो नई ट्रेन

269
0
SHARE

भागलपुर: बिहार के भागलपुर जिले के लोगों के लिए खुशखबरी है। नवनिर्मित भागलपुर-दुमका-रामपुरहाट रेल लाइन होकर भागलपुर से हावड़ा के लिए दो ट्रेनें मिल सकती हैं। जोनल मुख्यालय ने बाकायदा इसके लिए रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भी दे दिया है, जिसकी स्वीकृति मिल गई है। सोमवार को भागलपुर दौरे पर आ रहे पूर्व रेलवे के जीएम घनश्याम सिंह इसकी फिजिबिलिटी का जायजा भी लेंगे।

जो दो ट्रेनें भागलपुर से हावड़ा के लिए प्रस्तावित हैं, वह भाया हसडीहा, दुमका और रामपुरहाट होकर हावड़ा तक जाएगी। दोनों एक्सप्रेस ट्रेनें होंगी। इनमें से एक ट्रेन नई होगी जबकि एक ट्रेन हावड़ा-सुरी एक्सप्रेस है जिसे भागलपुर तक विस्तारित करने का प्रस्ताव है। जोनल मुख्यालय से इस प्रस्ताव को स्वीकृति मिलने के बाद मालदा रेल मंडल ने बाकायदा भागलपुर के रेल अधिकारियों को अधिकारिक रूप से इसकी सूचना भी दी है।

बताया जा रहा है कि सोमवार को जीएम भागलपुर यार्ड में जोनल और डिविजनल अधिकारियों के साथ ट्रेन मेंटेनेंस के संसाधनों का जायजा लेकर तमाम विंदुओं पर विचार करेंगे। मसलन ट्रेन चलने पर प्राइमरी और सेकेंड्री मेंटेनेंस कहां कराया जा सकता है। कितने यात्री लाभान्वित होंगे और कितनी बोगियों की ट्रेन चलाई जा सकती है। तमाम विंदुओं पर चर्चा होने के बाद ट्रेन चलाने की तिथि निर्धारित की जाएगी।

ये क्षेत्र होंगे लाभान्वित:

भागलपुर, बांका, हसडीहा, दुमका, रामपुरहाट इलाके के लोग

ये होंगे प्रमुख फायदे:

नए रेलखंड से चलने वाली नई ट्रेन कम समय में पहुंचेगी भागलपुर से हावड़ा।

भागलपुर से हावड़ा की दूरी 470 किमी की जगह 440 किमी हो जाएगी।

भागलपुर से रामपुरहाट की दूरी 207 की जगह 175 किमी रह जाएगी।

स्टॉपेज कम होने के कारण कम समय में तय होगी दूरी।

दुमका-हसडीहा रेलखंड के यात्रियों को एक्सप्रेस ट्रेन की सुविधा मिलेगी।

दुमका, रामपुरहाट, हसडीहा, मंदारहिल आदि जगह के व्यवसायी दो बड़े बाजार से जुड़ जाएंगे।

दूरी कम होने के कारण किराया भी काम होगा।

श्रोत: हिन्दुस्तान