दो फर्जी नक्सली गिरफ्तार

466
0
SHARE

आदित्यानंद आर्य की रिपोर्ट

सीतामढ़ी : उत्तर बिहार में नक्सली कमांडर प्रहार और नक्सलियो के नाम से ईट भट्टा मालिको से रंगदारी मागे जाने वाले मामले में शिवहर पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने उद्भेदन करते हुए गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार दोनों के पास से पुलिस ने घटना में अंजाम दिए जाने वाले मोबाइल फोन, सीम कार्ड और मोटरसाइकल को बरामद किया है। गिरफ्तार अपराधी शिवहर के खैरवा दर्प निवासी देवेंद्र राम व पुरनहिया थाना के खैरा पहाड़ी निवासी संजीत राम का रहने वाला है। वहीं अन्य अपराधी पुरनहिया के बसन्तपट्टी निवासी संजय पटेल, मोतिहारी जिला के पताही निवासी जरदाहा, साधु उर्फ महंत जी निवासी आतिश राम, आतिश के मित्र शिवहर के श्यामपुर भटहा के गोसाईपुर राम विनय पासवान, नया गांव निवासी नथुनी राम व शिवहर के माधोपुर अनन्त निवासी वीरेंद्र राम के नामो का भी खुलासा गिरफ्तार अपराधियों ने किया है। घटना के सम्बन्ध में शिवहर थाना में कांड संख्या 201/17दर्ज किया गया है।

आपको बता दे की शिवहर के जय माँ जगदम्बा ईट भट्ठा मालिक धर्मेंद्र कुमार तिवारी उर्फ पिंटू तिवारी, केटीएच ईट भट्ठा मालिक यशवंत सिंह व कर्मी रेजा आलम से उक्त सभी लोग प्रहार और नक्सली के नाम पर एक एक लाख रूपए रंगदारी की मांग कर रहे थे। जिसको लेकर सभी ईट भट्ठा मालिको द्वारा इसकी शिकायत एसपी मिश्रा से की गई थी। जिसपर त्वरित करवाई करते हुए एसपी मिश्र के नेतृत्व में अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रीतिश कुमार, शिवहर पुलिस निरक्षक सह थाना प्रभारी धनन्जय कुमार, विनय कुमार, रविन्द्र कुमार, एवं तकनीकी शाखा प्रभारी के विशेष टीम गठित की गई। जिसमे नक्सली पर्चा फेंकने और सीपीआइ माओवादी प्रहार के नाम से रंगदारी मागने का खुलासा हुआ।

वहीं गिरफ्तार देवेंद्र और संजीत ने भी पुलिसिया पूछताछ में में स्वीकार किया है की उनलोगों द्वारा फर्जी माओवादी बताकर माओवादी पर्चे से उक्त इट भट्टा मालिको से रंगदारी मांगने की योजना बनाई गई और उसी योजना के तहत रंगदारी की मांग की जाने लगी। इस प्रकार माओवादी के नाम पर रंगदारी की मांग करने वालो गिरोह का 24 घण्टा के अंदर त्वरित करवाई कर शिवहर पुलिस के द्वारा उद्भेदन कर लिया गया। साथ ही नक्सलवाद मुक्त शिवहर को बदनाम करने का प्रयास भी बिफल कर दिया गया।