धर्मनिरपेक्षता के नाम पर परिवार के भ्रष्‍टाचार को बचा रहे हैं लालू : पप्‍पू यादव

229
0
SHARE

‘नीतीश को देना चाहिए जवाब, जदयू में भी सबकुछ ठीक-ठाक नहीं’

पटना। जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने आरोप लगाया है कि राजद प्रमुख लालू यादव ने उसी जाति व समाज के साथ विश्‍वासघात किया है, जिसने उन पर भरोसा जताया था। लालू यादव गरीबों के गुनाहगार हैं। आज पटना में उन्‍होंने पत्रकारों से कहा कि लालू यादव धर्मनिरपेक्षता के नाम पर अपने परिवार के भ्रष्‍टाचार को बचा रहे हैं।

श्री यादव ने कहा कि सांसद प्रेमचंद गुप्‍ता ने लालू यादव की संपत्ति का ब्‍योरा जांच एजेंसियों को दिया है और उसी के आधार पर कार्रवाई हो रही है। पिछले अप्रैल महीने में लालू यादव ने प्रेमचंद गुप्‍ता के साथ वित्‍त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की थी। इसके बाद नीतीश कुमार ने भी अरुण जेटली से मुलाकात की थी। इस घटना के बाद दोनों भाईयों के रिश्‍तों में दरार आया है।

उन्‍होंने कहा कि शरद यादव व नीतीश कुमार में भी सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। दोनों के बीच मतभेद गहराने लगा है। नीतीश की मर्जी के खिलाफ शरद यादव आज उपराष्‍ट्रपति के मुद्दे पर विपक्षी दलों की बैठक में शामिल हुए। श्री यादव ने कहा कि नीतीश कुमार गेम प्‍लानर हैं और गेम चेंजर भी। नीतीश को पूरे प्रकरण पर मौन तोड़ना चाहिए। बिहार आज माध्‍यवधि चुनाव की ओर बढ़ रहा है। जन अधिकार पार्टी 11 करोड़ जनता के विकास, सम्‍मान और बिहार को बचाने की कोशिश करने वालों के साथ है।

श्री यादव ने कहा कि जिन लोगों ने लालू यादव के खिलाफ 2008 में तत्‍कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को दस्‍तावेज उपलब्‍ध कराये थे, आज वही लोग लालू यादव के पक्ष में खड़े हैं। दोनों भाइयों की राजनीति में बिहार की जनता ठगी जा रही है। मुख्‍यमंत्री नीतीश को जवाब देना चाहिए कि वह भ्रष्‍टाचार के आरोपी को क्‍यों बचा रहे हैं। पत्रकार वार्ता में प्रदेश अध्‍यक्ष अखलाक अहमद, राष्‍ट्रीय प्रधान महासचिव एजाज अहमद, राघवेंद्र कुशवाहा, अकबर अली परवेज, राजेश रंजन पप्‍पू, आनंद मधुकर यादव आदि मौजूद थे।